अस्पताल का नाम सुनते ही बड़ों-बड़ों की तबीयत बिगडऩे लगती है। नजर आने लगती है बीमारों और पीडि़तों की तस्वीरें। सरकारी चिकित्सालय हो तो लंबी-लंबी कतारें और अव्यवस्थाओं की चिंता। हालांकि आज हम आपको डराने या घबराहट पैदा करने के लिए इसका जिक्र नहीं कर रहे हैं। अजब-गजब की दुनिया में एक अस्पताल सामने आया है। 

खास बात ये है कि इसका इंसानों से कोई नाता भी नहीं है। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अबु धाबी स्थित इस हॉस्पिटल में सिर्फ बाज (फालकॉन) का इलाज किया जाता है। यहां तक कि यह भी दावा किया जा रहा है कि यह विश्व का सबसे बड़ा अस्पताल है। यहां बाजों की देखरेख के साथ उनके ऑपरेशन भी किए जाते हैं। 

उनके लिए वेटिंग रूम, इमरजेंसी मेडिकल वार्ड और ऑपरेशन थिएटर भी हैं। इलाज सस्ती दरों पर उपलब्ध कराया जाता है। आपको बता दें कि अरब देशों में बाज पालना समृद्धि का प्रतीक है। सरकार इस अस्पताल को आर्थिक मदद देती है। यह बाज पर शोध, दवाई और प्रशिक्षण के लिए प्रमुख केंद्र है। 

Source : Agency