गर्मियों में कई जगह पारम्‍पारिक रुप से दही-चावल का सेवन किया जाता है। क्‍योंकि दही में प्राकृतिक रुप से पेट को ठंडा रखने के गुण मौजूद होते हैं। गर्मियों में वैसे भी ज्‍यादात्तर लोग हल्‍की डाइट लेना पसंद करते हैं। इस मौसम में वैसे भी लोग भारी-भरकम खाने से बचते हैं। दही-चावल इस मौसम के अनुसार बहुत ही संतुलित आहार हैं।

इसके अलावा दही चावल के सेवन से गर्मियों में शरीर का तापमान संतुल‍ित रहता है जिसकी वजह से आपको लू लगने का भी डर नहीं रहता है। गर्मियों में रोजाना एक कटोरी दही-चावल खाने से शरीर को कई फायदे होते हैं।

बुखार में बढ़ाएं इम्‍यूनिटी
अक्‍सर गर्मियो में गर्म हवाओं की चपेट में आने से बुखार आ जाता है। ऐसे मौसम में आपके लिए दही और चावल का सेवन फायदेमंद रहता है। बुखार में अक्‍सर कुछ खाने का मन नहीं करता है। बुखार में इसे खाने से इससे आपकी भूख खत्म होने के साथ ही शरीर को भरपूर मात्रा में ऊर्जा मिलेगी। दही से आपकी इम्युनिटी पॉवर बढ़ेगी।


वजन नहीं बढ़ता
अगर आप चाहते है कि गर्मियों में आपका वजन संतुल‍ित रहें तो चावल का मांड न‍िकालकर दही के साथ मिलाकर खाएं। इस तरह से आप लगातार दही और चावल खाएंगे, तो एक से दो महीने में वजन कम होने लगेगा। इसमें कम कैलोरी होती है, इसलिए बेहिचक इसका सेवन करें।


शरीर का तापमान होता है कम
गर्मियों को लोग अक्‍सर दही-चावल का सेवन करते हैं, माएं भी अपने शिशु को भी दही चावल खिलाती है। दही चावल शरीर के तापमान को कम करने में मदद करता है। इसे आप किसी भी गर्म भोजन करने के बाद खाकर देखें, पेट को यह अंदर से ठंडा करता है।


प्रोटीन का मुख्य स्रोत
दही में कैल्शियम के अलावा प्रोटीन की भा मात्रा अधिक होती है। यह बेहतर एंटीऑक्सीडेंट भी है। ऐसे में दही को चावल के साथ खाने से आपको कई तरह के सेहत लाभ हो सकते हैं।


तनाव को रखें दूर
दही एक तरह से मूड-बस्टर का काम करता है जो तनाव से निजात दिलाने के साथ ही मूड को बेहतर बनाता है। अध्ययनों के अनुसार, दही में पाए जाने वाले प्रोबायोटिक बैक्टीरिया और अच्छी वसा, तनाव को कम करने में मदद कर सकते हैं।


पेट दर्द करे दूर
चावल मैग्नीशियम और पोटैशियम का एक अच्छा स्रोत है, जो पेट की ऐंठन और दर्द को कम करने में मदद करता है। दही और चावल खाने से पीरियड्स से पहले होने वाले ऐंठन और पेट दर्द को दूर किया जा सकता है।

 

Source : Agency