वॉशिंगटन 

अमेरिकी संसद ने राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के बेटे डॉनल्ड जूनियर को सेनेट की इंटेलिजेंस कमिटी के समक्ष पेश होने का आदेश दिया है। अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक डॉनल्ड जूनियर को राष्ट्रपति चुनाव में रूस के दखल के आरोपों पर चल रही जांच में बयान के लिए बुलाया गया है।  
 
यह पहला मौका है, जब इस मामले में जांच के तहत राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के परिवार के किसी मेंबर को लीगल समन जारी किया गया है। स्पेशल काउंसल रॉबर्ट मुलर की ओर से 2016 के कैंपेन में रूस के साथ मिलकर साजिश रचने का आरोप लगाने इनकार करने के बाद यह फैसला लिया गया है। 

गौरतलब है कि हाल ही में अमेरिका के विशेष अधिवक्ता रॉबर्ट मुलर ने 22 महीनों तक जांच के बाद अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। इस रिपोर्ट में उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के लिए रूस की ओर से चुनाव में हस्तक्षेप के सहयोग नहीं मिले हैं। हालांकि मुलर ने यह भी कहा है कि अमेरिकी चुनाव में रूस ने हस्तक्षेप की पूरी कोशिश की थी। 

Source : Agency