OnePlus से भारत की टॉप की स्मार्टफोन कंपनी होने का खिताब छिन गया है। वनप्लस को पछाड़ते हुए दक्षिण कोरिया की Samsung एक बार फिर से भारत की नंबर 1 स्मार्टफोन कंपनी बन गई है। काउंटरपॉइंट द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के हिसाब से Samsung Galaxy S10 सीरीज के स्मार्टफोन्स ने कंपनी को फिर से इस मुकाम पर पहुंचाने में काफी मदद की है।


काउंटरपॉइंट ने अपनी रिपोर्ट में कहा, 'सैमसंग पिछले तीन तिमाही से लगातार वनप्लस से पिछड़ रहा था लेकिन साल 2019 की पहली तिमाही में कंपनी फिर से प्रीमियम स्मार्टफोन्स सेगमेंट में टॉप पर पहुंच गई है। गैलेक्सी एस10 को मिले अच्छे रिस्पॉन्स से सैमसंग फिर से मार्केट लीडर बन गई है।'


रिपोर्ट में कहा गया है कि वनप्लस 6T 2019 की पहली तिमाही में 26% शेयर के साथ बेस्ट सेलर रहा। हालांकि इस रेस में सैमसंग को गैलेक्सी एस10 और गैलेक्सी एस10+ के कारण जीत हासिल हुई। गैलेक्सी एस10 का पहली तिमाही में मार्केट शेयर 12% और गैलेक्सी एस10+ का मार्केट शेयर 16% रहा। इस हिसाब से सैमसंग का प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट में मार्केट शेयर 28% हो गया जो वनप्लस से 2% ज्यादा है। बता दें कि काउंटरपॉइंट 30,000 रुपये या उससे ऊपर के किसी भी फोन को प्रीमियम कैटिगरी को फोन मानता है।


रिपोर्ट में आगे कहा गया कि साल 2019 की पहली तिमाही में सैमसंग, वनप्लस और ऐपल के प्रीमियम सेगमेंट की शिपमेंट 90% रही जो साल 2018 के पहली तिमाही में 95% थी। बचे हुए बाकी 10 प्रतिशत में हुवावे जैसी कंपनियों की हिस्सेदारी रही। हाल ही में लॉन्च हुए हुवावे मेट और पी सीरीज के स्मार्टफोन ग्राहकों को अपनी तरफ खींचने में कामयाब हो रहे हैं। वहीं ऐपल को अपने स्मार्टफोन्स की ज्यादा कीमत के कारण बिक्री में हो रही गिरावट को रोकने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।


काउंटरपॉइंट ने अनुमान लगाते हुए कहा कि इस साल भारत के प्रीमियम स्मार्टफोन सेगमेंट में 30% की वृद्धि हो सकती है। इसके साथ ही गूगल के पास भी हाल ही में लॉन्च किए गए Pixel 3a की मदद से इस सेगमेंट में अपनी पहचान बनाने का मौका है। जहां तक ऐपल की बात है तो कंपनी आईफोन्स के भारत में मास प्रॉडक्शन के साथ अपने डिवाइसेज पर लगने वाली 20 प्रतिशत की इंपोर्ट ड्यूटी को बचाने की कोशिश करेगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐपल अगर इंपोर्ट ड्यूटी में होने वाली बचत को ग्राहकों तक पहुंचाता है तो उसे इस सेगमेंट में काफी सफलता मिल सकती है।

Source : Agency