जबलपुर
मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में बीते 6 मई को कटनी साउथ स्टेशन पर इंटरसिटी एक्सप्रेस में मां-बेटी पर एसिड अटैक करने वाले व्यक्ति को जीआरपी ने गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल, इस घटना को अंजाम देने वाला व्यक्ति कोई और नहीं बल्कि पीड़िता का पति नीलकंठ यादव है, जो उसकी चरित्रहीनता के कारण दुखी था और उसे सबक सिखाना चाहता था.

रेल एसपी सुनील जैन ने वारदात के संबंध में बताया कि आरोपी नीलकंठ अपने परिवार के साथ अंबिकापुर में रहता है और रेलवे में असिस्टेंट लोको पायलट है. इसी क्रम में बीते 5 मई की पीड़िता रूमा अपनी मां और बेटे के साथ अंबिकापुर से जबलपुर आ रही थी, जिसकी जानकारी उसके पति को भी थी. वह अपने ड्यूटी टाइम से समय निकालकर कटनी रेलवे स्टेशन पहंचा और पत्नी पर एसिड अटैक करने के बाद भाग गया.

इसके बाद जबलपुर के एयरपोर्ट पहुंचा और हैदराबाद की फ्लाइट पकड़कर वापस जबलपुर आ गया था. जीआरपी ने जब घटना की जांच पड़ताल शुरू की, तब पीड़िता ने उन्हें श्याम बिहारी नामक युवक पर संदेह जाहिर किया था, लेकिन उससे पूछताछ करने पर उसने वारदात करने से इनकार कर दिया. इसके बाद कटनी और जबलपुर के सीसीटीवी फुटेज चेक करने पर एक शख्स नजर आया. इस दौरान पीड़िता से पूछे जाने पर वह व्यक्ति उसका पति निकला.

जीआरपी ने तकनीकी साक्ष्य जुटाने के साथ ही नीलकंठ से पूछताछ की. पहले तो नीलकंठ ने वारदात से इनकार किया, लेकिन सख्ती बरतने पर आरोपी ने बताया कि उसकी पत्नी के कुछ लोगों से अवैध संबंध हैं, जिसकी शिकायत उसने अपने सास-ससुर से भी की थी, लेकिन किसी ने भी उसकी पत्नी को समझाने का प्रयास नहीं किया. इसके बाद उसने पत्नी रूमा को सबक सिखाने के लिए यह कदम उठाया.

Source : Agency