शंघाई
कंपाउंड और रिकर्व के मिश्रित वर्ग में दूसरे दौर में हार के साथ शुक्रवार को यहां तीरंदाजी विश्व के दूसरे चरण में भारत का अभियान बिना पदक के समाप्त हो गया। जगदीश चौधरी और प्रीति की जोड़ी रिकर्व वर्ग में अमेरिका की ब्राडी एलिसन और एरिन मिकेलबरे की जोड़ी से 1-1 से बराबरी पर थी लेकिन वे अपना लय बरकरार नहीं रख सके और 2-6 से हार का समाना करना पड़ा। इसके बाद कंपाउंड वर्ग में प्रवीण कुमार और परवीना की भारतीय जोड़ी कम रैंंिकग वाली मलेशिया की जोड़ी से 151-155 से हार गयी। जिससे टीम का अभियान बिना पदक के समाप्त हुआ। इससे पहले गुरुवार को भारतीय तीरंदाज का रिकर्व और कंपाउंड दोनों वर्ग की व्यक्तिगत और टीम स्पर्धाओं में निराशाजनक प्रदर्शन से पदक की दौड़ से बाहर हो गये थे। भारतीय तीरंदाजी संघ ने विश्व कप के लिए दूसरे स्तर की टीम को भेजा था। संघ की अंदरूनी कलह के करण कम्पाउंड टीम बिना किसी कोच के यहां पहुंची थी ।
 

Source : Agency