महासमुंद
गर्मियों में घर के छत पर और दरवाजे के सामने बेजुबान पक्षियों के लिए दाना और पानी रखा आपने देखा होगा. लेकिन बेजुबान पक्षियों के लिए दाना-पानी शासकीय कार्यालयों में देखने को मिले तो सुनकर आश्र्चर्य लगता है. पर ऐसा कर दिखाया है महासमुंद कलेक्टर ने. कलेक्टर ने भीषण गर्मी को देखते हुए एक अशासकीय पत्र जारी कर जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में बेजुबान पक्षियों के लिए ऑपरेशन दाना-पानी की व्यवस्था करने की अपील की है. कलेक्टर जहां इस गर्मी में बिना दाना-पानी के अभाव में हो रही बेजुबान पक्षियों की मौत से उन्हें बचाने की पहल बता रहे है तो वही शासकीय विभागों के प्रमुख और पक्षी प्रेमी इसे एक अच्छी पहल बता रहे है.

दरसल महासमुंद में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है, जिससे मानव जीवन के साथ-साथ पशु पक्षी भी हलाकान है. इसे देखते हुए महासमुंद कलेक्टर सुनील जैन ने एक अशासकीय पत्र जारी किया है जिसमें लिखा है कि वर्तमान में भीषण गर्मी पड़ रही है. भूख और प्यास से पक्षी व्याकुल हो रहे है. एक जिम्मेदार इंसान के रूप में हमारा कर्तव्य है कि हम इनके जीवन का संरक्षण करें. आप सभी से आग्रह है कि इन मूक पक्षियों के लिए सभी अपने कार्यालय में मिट्टी के पात्रों में पानी रखकर इनके जीवन बचाने के लिए पहल कर मानवीय संवेदना का परिचय दें. उसके बाद जिले के सभी विभागों के विभागाध्यक्षों ने बेजुबान पक्षियों के लिए पानी व दाना की व्यवस्था की. कलेक्टर सुनील जैन का कहना है कि इस गर्मी में बिना दाना-पानी के अभाव में हो रही बेजुबान पक्षियों की मौत से उन्हे बचाने की ये एक पहल है. भीषण कर्मी में कलेक्टर की इस पहल की सभी सराहना कर रहे है. विभाग के आला अधिकारी और पक्षी प्रेमी इसे एक अच्छी पहल बता रहे हैं.

Source : Agency