इंदौर। 
आम तौर पर जनता सरकार को हटाने के लिए खड़ी होती है, लेकिन इस बार एक सरकार को दोबारा लाने के लिए पूरा देश खड़ा हो गया है। जनता की आवाज सुनकर कई नेताओं की नींद उड़ गई है, बौखला गए हैं। 2014 का चुनाव एंटी इन्कमबेंसी पर आधारित था, ये चुनाव प्रो इन्कमबेंसी पर आधारित है। पिछले चुनाव में भ्रष्टाचार, वंशवाद, पॉलिसी पैरालिसिस के खिलाफ आक्रोश चरम पर था, इस बार सरकार के प्रति विश्वास चरम पर है। 2019 का चुनाव भारतीय जनता पार्टी नहीं, भारतीय जनता लड़ रही है और 130 करोड़ भारतीय उसका नेतृत्व कर रहे हैं। यह बात प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को इंदौर में पार्टी प्रत्याशी श्री शंकर लालवानी के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही।

इंदौर नए एट्टीट्यूड का प्रतीक शहर
 प्रधानमंत्री मोदी ने अभूतपूर्व स्वागत के लिए इंदौर के लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि इंदौर स्वच्छ भारत अभियान के उनके आग्रह को सफल बनाते हुए पूरे भारत की अगुवाई कर रहा है। उन्होंने कहा कि देवी अहिल्याबाई होल्कर ने काशी में बाबा विश्वनाथ के मंदिर के लिए जो सपना देखा था, उसे साकार करने का काम तेजी से चल रहा है और वहां का सांसद होने के नाते मुझे इस पर गर्व है। श्री मोदी ने कहा कि ये सुमित्रा ताई का शहर है, जिन्होंने 9 बार के सांसद और लोकसभा अध्यक्ष के रूप में अमिट छाप छोड़ी है। मैं इंदौर के लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि इंदौर शहर के मामले में ताई की कोई इच्छा अधूरी नहीं रहेगी, कोई कमी नहीं आने दूंगा।

जनभागीदारी से किया परिवर्तन
 प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते पांच सालों में हमने एसी कमरों में बैठकर मौजमस्ती नहीं की, बल्कि जनभागीदारी से परिवर्तन लाने का काम किया। पांच सालों में भारत दुनिया का तीसरा बड़ा स्टार्टअप ईको सिस्टम बन गया है। उन्होंने कहा कि अगली औद्योगिक क्रांति डिजिटल इन्फ्रास्ट्रक्चर और टेलेंट पर ही होगी, जिसके लिए हमने देश को तैयार करने का काम शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा पांच सालों में फैसले लेने की प्रक्रिया तेज हुई है और कामकाज में पारदर्शिता आई है। सरकार ने 1 लाख करोड़ रुपया गलत हाथें में जाने से रोक दिया है। हमने टैक्सपेयर्स का सम्मान करते हुए महंगाई, ईएमआई कम की है। मेक इन इंडिया बड़ा ब्रांड बन गया है और भारत ऑटो, रेलकोच, डिफेंस, मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग में तेजी से तरक्की कर रहा है।

तीन शब्दों से प्रकट होता है कांग्रेस का अहंकार
 प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विधानसभा चुनाव में नामदार ने मोबाइल फैक्ट्रियां खोलने की बात कही थी, लेकिन अब कांग्रेस के घोषणापत्र में इसका उल्लेख तक नहीं है। ये कांग्रेस की आदत है, उसका अहंकार है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का अहंकार ‘हुआ तो हुआ’ इन तीन शब्दों से प्रकट होता है, जो उसकी पहचान भी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कर्जमाफ करने की बात कही, अब किसानों के घर पर पुलिस आ रही है और नया कर्ज नहीं मिल रहा। ये कहते हैं हुआ तो हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेसी सोचते हैं कि किस को समझ आएगा, लेकिन मैं कहता हूं ये 21 वीं शताब्दी है और 4 साल का बच्चा भी सब समझता है।

वंशवाद से नहीं मिलते सोच और विजन
 प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वंशवाद से पार्टी की कमान तो मिल सकती है, लेकिन सोच और विजन नहीं मिलता। जब विजन और ट्रैक रिकॉर्ड न हो, तो झूठ फैलाना पड़ता है। श्री मोदी ने कहा  कि कांग्रेस हमारी रक्षा नीति पर चर्चा ही नहीं करना चाहती। वो कहती है कि मोदी आतंकवाद का मुद्दा क्यों उठाता है। उन्होंने कहा कि जिस देश में 2014 के पहले आए दिन धमाके होते थे, अब क्यों बंद हो गए? उन्होंने कहा कि ये परिवर्तन आपके एक वोट ने किया है, आपके एक वोट ने देश को इतना मजबूत कर दिया है कि वह आतंकियों को उनके घर में घुसकर मारता है। श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस की गलत नीतियों की वजह से देश में आतंकवाद, नक्सलवाद फैला और आतंकी हमलों में हजारों लोग मारे गए। इसके चलते पाक ने ये फैला दिया कि आतंकवाद भारत का अंदरूनी मामला है, अब वो सारी दुनिया में सफाई देते घूम रहा है।

कौन कर सकता है देश की सुरक्षा
 श्री मोदी ने लोगों से पूछा कि देश में प्रधानमंत्री बनने वालों की लाइन लगी है और जो 8 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं, वो भी तैयार हैं, कपड़े सिलने डाल दिए हैं। उन्होंने पूछा कि इन चेहरों में से कौन आतंकवाद से मुकाबला कर सकता है, देश की रक्षा कर सकता है? श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस और उनके मिलावटी साथी देश की सुरक्षा पर बात नहीं करना चाहते, क्योंकि उन्हें 70 सालों का हिसाब देना पड़ेगा।

सरकार की कार्यप्रणाली बदली
 श्री मोदी ने कहा कि 2014 के पहले एक साथ दो आयोजन करने में सरकार की नींद उड़ जाती थी। इसीलिए 2009 और 2014 में आईपीएल देश के बाहर हुआ था। श्री मोदी ने कहा कि 2019 में चुनाव भी हो रहा है और आईपीएल भी हो रहा है, त्योहार भी आ रहे हैं, रमजान भी चल रहा है। उन्होंने कहा कि अभी फानी चक्रवात आया, 12 लाख लोगों को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया। ये भी चुनाव के दौरान किया गया। उन्होंने कहा कि ये नया भारत है। अफसर, दफ्तर सब वही है, सिर्फ सरकार की इच्छाशक्ति और नीयत बदली है।

हमारा मंत्र सबका साथ, सबका विकास
 श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस में हर चीज वंशवाद और वोटबैंक के आधार पर तय होती है। कांग्रेस ने वोटबैंक के लिए मुस्लिम बहनों की परेशानी को अनदेखा किया और तीन तलाक बिल का विरोध किया। अलवर में एक दलित महिला से गैंगरेप की घटना को कांग्रेस सरकार ने दबाने का प्रयास किया, क्योंकि दलितों के नाराज होने का खतरा था। श्री मोदी ने कहा कि हमारे लिए ’सबका साथ, सबका विकास’ ही मूल मंत्र है। इसे मजबूत करने के लिए आपको पूरी 

Source : Agency