नई दिल्ली
लोकसभा चुनाव के बीच मुद्रास्फीति में इजाफा हुआ है। खाद्य पदार्थों की कीमतों में वृद्धि की वजह से खुदरा महंगाई दर अप्रैल में बढ़कर 2.92 फीसदी रही, जोकि मार्च महीने में 2.86 फीसदी दर्ज की गई थी। अप्रैल 2018 में महंगाई दर 4.58 फीसदी थी।

 

सोमवार को केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (CSO) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल में फूड बास्केट की मुद्रास्फीति 1.1 फीसदी और मार्च में 0.3 फीसदी थी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया मौद्रिक नीति तय करते समय मुख्य रूप से उपभोक्ता मूल्य सूचकांक को ध्यान में रखता है।

यह लगातार 9वां महीना है जब महंगाई दर रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित लक्ष्य अधिकतम 4 फीसदी से कम है। विशेषज्ञों ने अप्रैल में मुद्रास्फीति 2.97 फीसदी रहने की उम्मीद जताई थी।

Source : Agency