लंदन
इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच दूसरे एकदिवसीय मुकाबले के दौरान सोशल मिडिया पर इंग्लैंड के गेंदबाज लियाम  प्लंकेट पर बॉल टेंपरिंग करने के आरोप पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने इंग्लैंड को क्लीन चिट दे दी है। शनिवार को इंग्लैंड और पाकिस्तान के मुकाबले के दौरान एक असत्यापित वीडियो फुटेज सोशल मिडिया पर वायरल हुआ था जिसमें  प्लंकेट गेंद पर अंगुली फेरते नज़र आ रहे थे और गेंद एक तरफ से बेहद खुदरी हुयी नज़र आ रही थी। इंग्लैंड ने बड़े स्कोर वाला यह मैच 12 रन से जीता था। इंग्लैंड ने तीन विकेट पर 373 रन बनाये थे जबकि पाकिस्तान की टीम सात विकेट पर 361 रन तक पहुंची थी। माना जा रहा है कि आईसीसी ने वीडियो को देख लिया है तथा उन्होंने इस मामले की पुष्टि भी कर ली है। आईसीसी ने इस मामले में प्लंकेट से बात भी की है।

आईसीसी ने कहा कि आईसीसी सोशल मिडिया पर वायरल की जा रही असत्यापित वीडियो से अवगत है। मैच अधिकारी इस बात से संतुष्ट है कि गेंद के साथ किसी भी तरह की छेड़खानी की कोशिश नहीं की गयी है तथा पूरे मुकाबले में गेंद की जांच के दौरान ऐसा कुछ नहीं पाया गया है। वायरल वीडियो में हालांकि ऐसा कुछ नहीं दर्शाया गया है कि प्लंकेट गेंद के साथ छेड़खानी करने की कोशिश कर रहे है। गौरतलब है कि पिछले वर्ष आॅस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ बॉल टेंपरिंग के इल्जाम में दोषी पाए गए थे जिसके लिए उन पर साल का प्रतिबंध भी लगाया गया था।
 

Source : Agency