नई दिल्ली 
देश के शेयर बाजार में लगातार 9वें दिन गिरावट से हाहाकार मच गया है. अब सबकी नजर आज शेयर बाजार पर होगी. जानकारों का कहना है कि अगर आज भी लगातार 10वें दिन बाजार में गिरावट नजर आई तो फिर यह चिंता का विषय होगा, और बाजार पर इसका खासा असर पड़ेगा.

सोमवार को लगातार 9वें दिन गिरावट

दरअसल सोमवार को लगातार 9वें कारोबारी दिन गिरावट का रुख रहा. आखिरी दौर की बिकवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 372 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 130 अंक टूटा. इसलिए मंगलवार का दिन खास रहने वाला है, क्योंकि खुदरा महंगाई दर का भी असर बाजार पर दिखने वाला है. सोमवार का जारी खुदरा महंगाई दर अप्रैल महीने में बढ़कर 2.92 प्रतिशत हो गई, जो मार्च में 2.86 फीसदी पर थी.
बैंकिंग सेक्टर में दबाव

बता दें, 8 साल में पहली बार बाजार लागातार 9वें दिन तक गिरा. आखिरी घंटे में बाजार में भारी बिकवाली देखने को मिली. जिस वजह से सोमवार को सेंसेक्स 37000 के नीचे तक फिसल गया, और निफ्टी ने 11,150 तक का निचला स्तर टच कर लिया. कारोबार के अंतिम समय में आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज और ICICI बैंक जैसे अधिक वजन रखने वाले शेयरों में बिकवाली बढ़ने से सेंसेक्स तेजी से नीचे आ गया.
वहीं सोमवार को कारोबार में टाटा स्टील, यस बैंक, आयशर मोटर्स, जेएसडब्ल्यू स्टील, इंडसइंड बैंक और सन फार्मा सबसे ज्यादा गिरने वाले शेयरों में शामिल रहें. यस बैंक, टाटा स्टील और इंडसइंड बैंक प्रमुख रहे जिनके शेयरों में 5.58 प्रतिशत तक की गिरावट रही.

वैश्विक बाजार से भी कमजोर संकेत

वैश्विक बाजारों के कमजोर संकेतों का घरेलू निवेशकों पर असर पड़ा. अमेरिका-चीन के बीच व्यापार वार्ता से जुड़े खबरों की वजह से चीन, जापान और कोरिया के शेयर बाजार भी गिरावट में रहे. बाजार में कमजोरी की वजह एशियाई बाजारों में कमजोरी है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को कारोबार पर बातचीत को लेकर धमकी दी है. दुनिया की दो बड़ी इकोनॉमी के बीच चल रही खींचतान का असर दुनियाभर के बाजारों पर दिख रहा है.
कंपनियों की रिपोर्ट

सोमवार को आईटीसी कंपनी के शेयर में 2.64 प्रतिशत तक की गिरावट रही, कंपनी ने सोमवार को ही अपने तिमाही परिणाम जारी किए. मार्च में खत्म तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 18.72 प्रतिशत बढ़कर 3,481.90 करोड़ रुपये हो गया. लाभ दर्ज करने वाले शेयरों में HDFC का शेयर 1.06 प्रतिशत बढ़ गया. कंपनी के मार्च 2019 को समाप्त चौथी तिमाही के आंकड़ों में उसका एकल शुद्ध लाभ 26.8 प्रतिशत बढ़कर 2,862 करोड़ रुपये हो गया.

Source : Agency