इंदौर
 सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी सोमवार को गुरु अमरदास हॉल में भाजपा व्यापारी प्रकोष्ठ के कार्यक्रम में व्यापारियों को संबोधित किया। उन्होंने पांच साल में इंदौर को वायु व जल प्रदूषण मुक्त करने के साथ कई सौगातें देने का वादा किया। कार्यक्रम में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, लोकसभा प्रत्याशी शंकर लालवानी, भाजपा नेता कृष्णमुरारी मोघे, अरविंद कावठेकर, गोपीकृष्ण नेमा सहित शहर के विभिन्न व्यापारी संगठनों के पदाधिकारी मौजूद रहे।

गडकरी बोले, जो काम कांग्रेस ५० साल में नहीं कर पाई, वह हमारी सरकार ने पांच साल में कर दिखाया। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने विकास के लिए रशिया का सोशल कम्युनिस्ट मॉडल चुना था। देश से कम्युनिस्ट पार्टी खत्म होने की कगार पर है। हमारी विचारधारा राष्ट्रवाद सर्वोपरि है, राष्ट्र का विकास, राष्ट्र सुरक्षित रहे व किसानों का कल्याण करना है। गडकरी ने कहा, पाकिस्तान और भारत में 6 नदियां बहती है, 3 का पानी हम उन्हें देते है, 3 का पानी वो हमें देते हैं। पाकिस्तान में जाने वाला पानी रोककर पंजाब और हरियाणा को देंगे। नेहरू ने भाईचारा और प्रेम दिखाते हुए 3 नदियों का पानी पाकिस्तान को दे दिया। हमने कहा, यदि पाकिस्तान आतंकवाद बंद नहीं करेगा तो हम उनका पानी रोक देंगे। पाकिस्तान पानी की बूंद के लिए तरसेगा।

इंदौर को ये सौगातें देने का वादा

गडकरी ने कहा, इंदौर में आधे डॉक्टर्स की दुकान दूषित पानी और वायु की वजह से ही चल रही है। देश का किसान पेट्रोल-डीजल का पर्याय बनाएगा, प्लास्टिक बनाएगा। बायो एविएशन फ्यूल को 3 विमान बनाने वाली कंपनियां मंजूरी दे चुकी हैं। दिल्ली से मुंबई एक्सप्रेस हाई वे 1 लाख करोड़ रुपए में बना रहे हैं, जिसका 270 किमी मप्र से निकलेगा। इंदौर-भोपाल नया हाईवे मंजूर किया है। इस पर औद्योगिक विकास, कृषि विकास व व्यापार विकास होगा। 2019 में इसका काम शुरू हो जाएगा। इंदौर में 350 करोड़ रुपए लागत का 7 किमी का फ्लाई ओवर मंजूर किया है, जो एलआइजी चौराहा से नौलखा चौराहे तक बनेगा।

30 फीसदी सफाई में ही प्रियंका गंगा का पानी पी रही हैं

गडकरी ने कहा, गंदे पानी को शुद्ध करने में हमने काफी सफलता हासिल की है। पिछले सिंहस्थ में मॉरीशस के पीएम गंगा का गंदा पानी देखकर बिना नहाए चले गए, लेकिन इस बार आए तो नहाए और शुक्रिया भी कहकर गए। प्रियंका गांधी गंगा का पानी पी रही है, इसकी वजह गंगा की सफाई है। अभी यक 30 फीसदी हुई है, अगले मार्च तक 100 फीसदी साफ कर देंगे। नागपुर में हम अपशिष्ट से बायो सीएनजी बना रहे है, उससे अभी 36 बसें चल रही हैं। आने वाले समय में सभी 450 चलाएंगे। नागपुर में 180 करोड़ रुपए हर साल ड्रेनेज का पानी बेचकर कमा रहे हैं। भारत 5 लाख करोड़ रुपए की इकोनॉमी सॉलिड और लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट से बन सकता है। मेरे संसदीय क्षेत्र के सभी 5 जिलों को 5 साल में डीजल मुक्त कर दूंगा, इथेनॉल से वाहन चलेंगे।

Source : Agency