भोपाल

लोकसभा चुनाव 2019 में मध्य प्रदेश में ड्यूटी के दौरान चर्चा में आई नीली साड़ी वाली महिला योगेश्वरी गोहाइट इन दिनों खूब चर्चा में हैं। सोशल मीडिया पर तो जैसे उनके फैंस की बाढ़ आ गई हैं। योगेश्वरी की मानें तो हर एक मिनट के बाद उन्हें फेसबुक पर रिक्वेस्ट आ रही हैं। जिसके चलते परेशान होकर अब वे अपना अकाउंट छिपाने की सोच रहीं हैं।
पत्रकारों ने जब रविवार को योगेश्वरी से बात करने की कोशिश की थी तो उन्होंने ड्यूटी का हवाला देते हुए बात करने से इंकार कर दिया था। इसके बाद मीडिया ने मतदान खत्म होने के बाद सोमवार को उनसे बात की तो योगेश्वरी ने कहा कि 'सभी का ध्यान मेरी तरफ आकर्षित होने से काफी हैरान हूं। मैं जिस तरह से पसंद करती हूं वैसे ही कपड़े पहनती हूं। मेरे पास कोई फैशन रोल मॉडल नहीं है और एक पोशाक के जरिए कभी भी एक महिला को परिभाषित नहीं करना चाहिए। यह हमारी व्यावसायिकता और काम की नैतिकता है जो मायने रखती है’।
फैंस से परेशान हो रहीं योगेश्वरी
गोहाइट ने आगे कहा कि, "हर कोई मेरे साथ सेल्फी लेना चाहता है और फेसबुक पर हर एक मिनट के बाद फ्रेंड रिक्वेस्ट मिल रही है'। लिहाजा वे अब अपना अकाउंट हाइड करने की भी सोच रहीं हैं।

बैंक कर्मचारी हैं योगेश्वरी
बता दें कि गोहाइत जनवरी 2011 से केनरा बैंक में कार्यरत हैं। वोटिंग के दिन पर सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ‘मुझे गर्व है कि हमारे लोकतंत्र को मजबूत बनाने में मेरा योगदान भी हैं’।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में रविवार को हुए छठवें चरण के चुनाव के दिन से एक तस्वीर वायरल हो रही हैं जिसमें नीली ड्रेस पहने और आंखों में सनग्लासेस लगाए एक महिला चुनाव ड्यूटी के लिए जा रही है। इसके बाद जब उनके बारे में जानकारी निकाली गई तो पता चला कि नीली ड्रेस वाली महिला का नाम योगेश्वरी गोहिते ओंकार है। जिनकी ड्यूटी गोविंदपुरा आईटीआई के पोलिंग बूथ पर लगाई गई है।

Source : Agency