कोलकाता 

पश्चिम बंगाल में सियासी संग्राम थमने का नाम ले रहा है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की जुबान से निकल रहे कड़वे अल्फाज उनके भीतर मचे तूफान का साफ-साफ संकेत दे रहे हैं. ममता बनर्जी के निशाने पर नरेंद्र मोदी, अमित शाह और चुनाव आयोग तीनों हैं. उनका कहना है कि अमित शाह और मोदी के कहने पर चुनाव आयोग ने एक्शन लिया.

दरअसल, अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा और बवाल पर कार्रवाई करते हुए आयोग ने बंगाल में चुनाव प्रचार आज रात ही खत्म करने का आदेश सुना दिया. चुनाव के आखिरी राउंड से पहले आयोग का ये फैसला ममता बनर्जी पर बिजली की तरह गिरा. ममता ने कहा कि आयोग ने मोदी को उपहार दिया है जो अभूतपूर्व, असंवैधानिक और अनैतिक है. पहले कभी इस तरह का चुनाव आयोग नहीं देखा जो आरएसएस के लोगों से भरा पड़ा है.

बंगाल में पीएम मोदी की दो रैली, ममता की बढ़ीं मुश्किलें

आज पीएम मोदी की बंगाल में दो बड़ी रैलियां हैं. एक मथुरापुर में और दूसरी दमदम में, लेकिन, आयोग के तय समय से पहले ही बंगाल में प्रचार पर रोक से ममता की मुश्किलें बढ़ गईं, आखिरी दिन यानी शुक्रवार को उनकी धुआंधार प्रचार की उम्मीदों पर पानी फिरता दिखा. ऐसे में ममता बनर्जी ने सीधे मोदी और शाह पर प्रचंड प्रहार शुरू कर दिए.
ममता ने मोदी और शाह को चेताया

ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्रीय सुरक्षाबलों की वजह से हिंसा हुई है. मोदी चुनाव आयोग की बांह मरोड़ रहे हैं. दोषियों के खिलाफ चुनाव आयोग ने कार्रवाई नहीं की है. ममता ने चेताया कि बंगाल को यूपी, बिहार या त्रिपुरा न समझें. राज्य सरकार की सुरक्षा होती तो हिंसा नहीं होती. अमित शाह चुनाव आयोग को धमका रहे हैं. मोदी ने मूर्ति तोड़े जाने की निंदा भी नहीं की.


ममता के करीबी अफसरों की छुट्टी

आयोग ने बंगाल में सिर्फ प्रचार ही पहले खत्म करने का आदेश नहीं सुनाया. ममता के दो बड़े अफसरों की भी छुट्टी कर दी. बंगाल के प्रधान सचिव (गृह) अत्रि भट्टाचार्य को पद से हटाया. इसके साथ ही सीआईडी के ADG राजीव कुमार को भी उनके पद से हटाया गया. राजीव कुमार को गृह मंत्रालय भेज दिया गया है. अयोग ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालने पर भी रोक लगाया है.

ममता ने शुरू की बंगाल अस्मिता की सियासत

मंगलवार को कोलकाता में ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति टूटने को ममता ने बड़ा मुद्दा बना दिया. सीधे शाह और मोदी पर तूफानी हमला शुरू कर दिया. ममता ने कहा कि गुंडा सम्राट विद्यासागर की मूर्ति तोड़ोगे तो गुंडा नहीं बोलूंगी तो क्या बोलूंगी? अगर विद्या सागर की मूर्ति को तोड़ोगे तो मैं तुमको गुंडा-शुंडा-पंडा सब बोलूंगी.

अमित शाह ने ममता पर लगाए आरोप

दरअसल, ममता बंगाल के लोगों को संदेश देने की कोशिश कर रही हैं कि विद्यासागर की मूर्ति बीजेपी के लोगों ने तोड़ी. अमित शाह पहले ही दीदी के इरादों को भांप गए थे. बुधवार को अमित शाह ने कहा था कि झूठे प्रकार की सिम्पैथी कलेक्ट करने के लिए ममता बनर्जी के कार्यकर्ताओं ने ही ईश्वर चंद विद्या सागर की प्रतिमा को तोड़कर एक नाटक और एक षड्यंत्र रचने का काम किया है.

टीएमसी के गढ़ में बीजेपी दे रही है चुनौती

अब बंगाल की जिन 9 सीटों पर 19 मई को मतदान होना है, वो टीएमसी का गढ़ हैं. 2014 में सभी 9 सीटों पर टीएमसी का परचम लहराया था,सिर्फ दो सीटें कोलकाता उत्तर और दक्षिण पर बीजेपी दूसरे नंबर पर रही. लेकिन, पिछले 5 सालों में बीजेपी ने बंगाल की जमीन पर इतना पसीना बहाया कि टीएमसी को सीधी टक्कर देने की स्थिति में आ गई. पिछले 8 सालों में ममता को बंगाल में पहली बात इतनी कड़ी चुनौती मिल रही है.

Source : Agency