सुकमा
छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के तेमेतलवाड़ा स्थित सीआरपीएफ 150 कैम्प में बुधवार की दोपहर को प्रधान आरक्षक अरविन्द पांडेय ने खुद को गोली मार ली. इसके चलते उसकी मौत हो गई. गोली मारने का कारण फिलहाल अज्ञात है. जवान ने अपनी ही रायफल से खुद को गोली मार दी. गोली की आवाज सुनकर आसपास के जवान मौके पर पहुंचे और आनन-फानन में घायल जवान को दोरनापाल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही जवान ने दम तोड़ दिया.

मिली जानकारी के मुताबिक सीआरपीएफ 150 के कैम्प में उस वक्त हलचल मच गया जब अचानक गोली की आवाज सुनाई दी. गोली की आवाज सुनते ही सभी जवान व अधिकारी मौके पर पहुंचे तो घायल अवस्था में प्रधान आरक्षक अरविंद पांडेय नीचे गिरे हुए थे. उसके बाद उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद आनन-फानन में दोरनापाल ले जाया गया. लेकिन रास्ते में जवान ने दम तोड़ दिया. बताया जाता है कि अपनी सर्विस रायफल से जवान ने खुद को गोली मार ली और गोली गले के पास से होकर गुजरी है. एएसपी शलभ सिन्हा ने पुष्टि करते हुए कहा कि रायफल की गोली से जवान की मौत हुई है.

Source : Agency