नई दिल्ली
लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी शिकस्त के बाद पार्टी के भीतर अंतर्कलह शुरू हो गई है। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पार्टी के खराब प्रदर्शन को लेकर अपनी ही सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा है। खासतौर पर नवजोत सिद्धू के पाकिस्तान जाकर वहां के सेनाध्यक्ष कमर जावेद बाजवा से गले मिलने को लेकर कैप्टन ने उन पर वार किया। अमरिंदर सिंह ने कहा, 'भारतीय और खासतौर पर सेना से जुड़े लोग पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष के गले लगने जैसी हरकतों को पसंद नहीं कर सकते।'

यही नहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गुरदासपुर से कांग्रेस कैंडिडेट सुनील जाखड़ के पिछड़ने पर हैरानी जताई। उन्होंने कहा कि सुनील जी एक अच्छे उम्मीदवार थे और उन्होंने वहां पर बहुत सारा काम किया। यह बात मैं नहीं समझ पा रहा हूं कि आखिर लोगों ने अनुभवी नेता पर एक ऐक्टर को तरजीह देने का फैसला क्यों लिया?

हालांकि कांग्रेस ने उत्तर भारत के अन्य राज्यों की तुलना में पंजाब में बेहतर प्रदर्शन किया है। यहां की 13 सीटों में से कांग्रेस को 8 सीटों पर बढ़त मिली है। बीजेपी दो सीटों पर आगे है, जबकि शिरोमणि अकाली दल को दो सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं पिछली बार सूबे की 4 लोकसभा सीटें जीतने वाली आम आदमी पार्टी महज संगरूर सीट पर ही आगे चल रही है।

 

Source : Agency