नई दिल्ली
लोकसभा चुनाव में पिछली बार से भी प्रचंड बहुमत से बीजेपी और एनडीए की सत्ता में वापसी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। जनता को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि 130 करोड़ हिंदुस्तानियों ने आज फकीर की झोली भर दी। लगातार दूसरी बार बहुमत मिलने को बड़ी और बढ़ी हुई जिम्मेदारी बताते हुए मोदी ने कहा कि वह बद इरादे और बदनीयत से कोई काम नहीं करेंगे। उन्होंने जोर देकर कहा कि वह खुद अपने लिए कभी भी कुछ नहीं करेंगे। मोदी ने कहा कि बीजेपी कभी 2 सीटों तक सीमित थी और आज लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ रही है लेकिन पार्टी ने न कभी संस्कार छोड़ा, न आदर्शों को छोड़ा।


दिल्ली में बारिश की ओर इशारा करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि स्वयं मेघराजा भी इस विजयोत्सव में शरीक होने के लिए हमारे बीच हैं। मोदी ने कहा, '2019 लोकसभा का जनादेश हम सब देशवासियों के पास नए भारत के लिए जनादेश लेने के लिए गए थे। आज हम देख रहे हैं कि देश के कोटि-कोटि नागरिकों ने इस फकीर की झोली को भर दिया।'

पीएम मोदी का भाषण
'मैं भारत के 130 करोड़ नागरिकों का सर झुकाकर नमन करता हूं। लोकतांत्रिक विश्व में 2019 का यह जो मतदान का जो आंकड़ा है, यह अपने आपमें लोकतांत्रिक विश्व के इतिहास की सबसे बड़ी घटना है। देश आजाद हुआ, इतने लोकसभा के चुनाव हुए लेकिन आजादी के बाद इतने चुनाव होने के बाद सबसे अधिक मतदान इस चुनाव में हुआ और वह भी 40-42 डिग्री सेल्सियस गर्मी के बीच में। यह अपने आप में भारत के मतदाताओं की जागरुकता, लोकतंत्र के प्रति भारत की प्रतिबद्धता पूरे विश्व को इस बात को रजिस्टर करना होगा, भारत की लोकतांत्रिक शक्ति को पहचानना होगा।

इस अवसर पर मैं, इस लोकतंत्र के उत्सव में लोकतंत्र के खातिर जिन-जिन लोगों ने बलिदान दिया है, जो लोग घायल हुए हैं, उनके परिवारजनों के प्रति मेरी संवेदना प्रकट करता हूं और लोकतंत्र के इतिहास में लोकतंत्र के लिए मरना, ये मिसाल आने वाली पीढ़ियों को प्रेरणा देती रहेगी।

मैं चुनाव आयोग को, सुरक्षा बलों को इस लोकतंत्र के उत्सव की व्यवस्था को संभालने वालों को, हर किसी को उत्तम तरीके से लोकतंत्र में विश्वास बढ़ाने वाली व्यवस्था देने वाली, चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराने वालों को हृदयपूर्वक बधाई देता हूं।

साथियो, जब महाभारत का युद्ध समाप्त हुआ तब श्रीकृष्ण से पूछा गया कि आप किसके पक्ष में थे। मैं समझता हूं उस समय महाभारत के काल में भगवान श्रीकृष्ण ने जो जवाब दिया था, वह आज 21वीं सदी में 2019 के चुनाव में हिंदुस्तान के 130 करोड़ जनता ने श्रीकृष्ण के रूप में जवाब दिया है। श्रीकृष्ण ने जवाब दिया था कि मैं किसी के पक्ष में नहीं था, मैं तो सिर्फ हस्तिनापुर के लिए हस्तिनापुर के पक्ष में खड़ा हूं। इसी तरह 130 करोड़ भारतीय भारत के लिए भारत के पक्ष में मतदान किया। देश के सामान्य मानविकी की भावना भारत के उज्ज्वल भविष्य की गारंटी है।

इस चुनाव में मैं पहले दिन से कह रहा था कि यह चुनाव कोई दल, उम्मीदवार या नेता नहीं लड़ रहा है, यह चुनाव देश की जनता लड़ रही है। जिनके आंख-कान बंद थे, उनके लिए मेरी बात समझना मुश्किल था। लेकिन आज मेरी उस भावना को जनता जनार्दन ने प्रकट कर दिया है। और इसलिए अगर कोई विजयी हुआ है तो हिंदुस्तान विजयी हुआ है, लोकतंत्र विजयी हुआ है, जनता-जनार्दन विजयी हुई है। हम सभी बीजेपी कार्यकर्ता और एनडीए के साथी इस विजय को जनता-जनार्दन के चरणों में समर्पित करते हैं।

Source : Agency