दुनियाभर से कई ऐसी खबरें आती हैं, जो लोगों को सोचने पर मजबूर कर देती हैं। अमेरिका के ओरेगॉन प्रांत से भी एक ऐसी ही खबर सामने आई है। यहां एक जज ने आरोपी को अनोखी सजा सुनाई है। आरोपी को घृणा करने के अपराध में सजा दी गई है। पूरा मामला जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे।  

दरअसल, एंड्रयू रामसे नाम के एक शख्स ने हरविंदर सिंह डोड को धमकाया था और उन पर हमला भी कर दिया था। कोर्ट में पेश दस्तावेजों के मुताबिक, डोड ने बिना पहचान-पत्र दिखाए रामसे को सिगरेट बेचने से मना कर दिया था।   

मैरियन काउंटी के जज लिंडसे पार्ट्रिज ने इस मामले में एंड्रयू रामसे को दोषी पाया और सिख धर्म का अध्ययन करने की सजा दे दी। 25 वर्षीय एंड्रयू रामसे को कोर्ट ने तीन साल जेल की भी सजा सुनाई है। 

अमेरिका के 'द सिख कोलिशन' ने एक बयान में बताया है कि रामसे ने 14 जनवरी को हरविंदर सिंह डोड को धमकाने और उन पर हमला करने का जुर्म कबूल किया था। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जज ने रामसे को जून में होने वाले सालाना सिख परेड में भी शामिल होने का आदेश दिया है। जज ने कहा कि इसके बाद रामसे अदालत को बताए कि उसने सिख समुदाय और उनकी संस्कृति के बारे में क्या जाना और सीखा। 

Source : Agency