लखनऊ

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि जब देश की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूर्ण बहुमत दिया है इसलिए हमारे लिए मोदी ही सुप्रीम कोर्ट हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने लखनऊ पहुंचे संजय राउत ने कहा, "मंदिर निर्माण की शुभ घड़ी आ गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा. ये कोई क्रेडिट लेने की लड़ाई नहीं है. देश ने मोदी जी को चुना है हम उनकी बात सुनेंगे. वही हमारे लिए सुप्रीम कोर्ट हैं."

शिवसेना नेता ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होकर ही रहेगा. उन्होंने यहां तक कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) बार-बार मंदिर के नाम पर जनता से वोट नहीं मांग सकती.

संजय राउत ने बताया कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 16 जून को अपने सभी सांसदों के साथ अयोध्या आकर रामलला के दर्शन करेंगे. साथ ही ये भी कहा कि एनडीए में बीजेपी के बाद सबसे बड़ा दल शिवसेना ही है. इसलिए डिप्टी स्पीकर का पद मांग नहीं, बल्कि नैसर्गिक अधिकार है. संजय राउत ने कहा कि लोकसभा चुनाव में एनडीए को बड़ी जीत मिली है जो कि रामलला के आशीर्वाद से ही संभव हो पाई है. अब उद्धव ठाकरे कर्ज चुकाने के लिए अपने सभी सांसदों सहित रामलला के दर्शन करने आ रहे हैं.

पिछले साल नवंबर में अयोध्या में डेरा डाल केंद्र सरकार को घेरने वाले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे चुनाव बीतते ही एक बार फिर अयोध्या जाने की तैयारी में हैं. सूत्रों की मानें तो शिवसेना प्रमुख 15 जून को अयोध्या जाएंगे. उद्धव के दौरे की जानकारी उस समय आई है, जब मंदिर निर्माण के लिए मोदी सरकार को लेकर आक्रामक रुख दिखाने वाले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने एक दिन पहले ही इस मुद्दे पर नरमी दिखाई थी.

कानपुर में भागवत ने कहा था कि मंदिर निर्माण के लिए हम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे. उन्होंने कश्मीर से धारा 370 हटाने की मांग करते हुए कहा था कि देश की जनता को उम्मीद है कि मोदी सरकार कश्मीर से धारा 370 हटाएगी.

गौर करने वाली बात है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 25 नवंबर को विश्व हिंदू परिषद की धर्म संसद में शामिल हुए थे. ठाकरे ने केंद्र और महाराष्ट्र की सरकार का नेतृत्व कर रही अपनी सहयोगी बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि वह राम मंदिर का श्रेय लेने नहीं, मंदिर निर्माण की तारीख जानने आए हैं. कुंभकर्णी निद्रा में सो रही सरकार को जगाने आए हैं.

Source : Agency