कानपुर  
विश्वकप में अगले रविवार को भारत का मुकाबला पाकिस्तान से होगा। इंग्लैंड के ओल्ड ट्रैफर्ड में होने वाले इस मैच के 70 फीसदी टिकट भारतीय दर्शकों ने खरीद लिए हैं। इस ऐतिहासिक मैदान में कानपुर के लगभग 400 क्रिकेट प्रेमी भी विराट टीम का हौसला बढ़ाने के लिए रवाना हो चुके हैं। मैच में पाकिस्तानी फैन्स की संख्या केवल 18 फीसदी होगी।विश्वकप में भारत-पाक मैच का लाइव दीदार करने की दीवानगी सिर चढ़कर बोल रही है। हाल ये है कि ट्रैवल ऑपरेटरों के पास सांस लेने की फुर्सत नहीं है। टी प्लस टूर्स एंड ट्रैवल्स के नॉर्थ इंडिया हेड राजूराज ने बताया कि इंडो-पाक मैच को लेकर लोग इस कदर दीवाने हैं कि टिकट के लिए चार गुना और पैकेज का दोगुना पैसा देने को तैयार हैं। आईसीसी की वेबसाइट क्रैश हो चुकी है और महज दस मिनट के लिए ही खुल रही है। 

इस मैच का सबसे सस्ता टिकट 40 हजार रुपए का है, लेकिन वह भी उपलब्ध नहीं है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि लगभग 22 हजार दर्शक क्षमता वाले इस स्टेडियम में 15 हजार से ज्यादा भारतीय दर्शक होंगे। विभिन्न टूर ऑपरेटरों के जरिए कानपुर से करीब 400 लोग इंग्लैंड घूमने निकल चुके हैं। 

वीजा मिलने में लग रहे 20 दिन

न्यूनतम पैकेज ढाई लाख रुपए का है। शहर से जाने वालों में अधिकांश ने 14 दिन का पैकेज लिया है, जिसमें इंग्लैंड के अलावा फ्रांस, इटली और स्विटजरलैंड की सैर भी शामिल है। इसका लग्जरी पैकेज पांच लाख प्रति व्यक्ति से शुरू होता है। राजूराज ने बताया कि टिकट के अलावा सबसे बड़ी समस्या वीजा न मिलने की है। इन दिनों ब्रिटिश दूतावास में इतनी भीड़ है कि दस दिन में मिलने वाले वीजा में बीस दिन लग रहे हैं। 

इंग्लैंड से मुकाबले का भी क्रेज

इसी तरह 30 जून को एजबेस्टन में भारत का मुकाबला मेजबान इंग्लैंड से होगा। दिलचस्प बात ये है कि इस मुकाबले में भी भारतीय प्रशंसकों की तादाद ब्रिटिश फैन्स से ज्यादा रहेगी। अभी तक इंग्लैंड-इंडिया मैच के 55 फीसदी टिकट टीम इंडिया के प्रशंसकों ने खरीदे हैं। इंग्लैंड समर्थकों के हिस्से सिर्फ 42% टिकट ही आए। एजबेस्टन स्टेडियम की दर्शक क्षमता 24,500 है। इसमें से 13,500 टिकट भारतीयों और 10,300 टिकट ब्रिटिश लोगों ने खरीदे हैं।

Source : Agency