नई दिल्ली 

चक्रवात ‘वायु’ आज गुजरात से टकरा सकता है. पिछले तीन दिनों से प्रशासन के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है. गुरुवार को चक्रवात वायु से जुड़ी एक राहत वाली खबर आई. बताया जा रहा है कि अब इसका असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही दिखाई देगा. खतरा कम होने के बावजूद प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर है और सबसे ज्यादा ध्यान सौराष्ट्र पर दिया जा रहा है.

-    गुरुवार को वायु के आने से पहले ही बुधवार शाम से ही इसका असर दिखना शुरू हो गया था. समुद्र के पास के करीब 500 गांवों में पानी भर गया था. जिसकी वजह से लाखों लोगों को निकाला गया.

-    गृह मंत्री अमित शाह के ट्वीट के मुताबिक, अभी तक 3 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है.

-    ऐतिहासिक सोमनाथ मंदिर पर भी इसका असर दिखा. बुधवार को वहां चली तेज हवाओं के चलते टीन शेड उड़ते हुए नज़र आए.

-    गुजरात में किसी भी तरह के नुकसान को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है. प्रशासन ने खाने के कई पैकेट भी तैयार किए हैं, अगर किसी को जरूरत पड़ती है. जिन लोगों को घरों से बाहर पहुंचाया गया है, उनके लिए प्रशासन की ओर से व्यवस्था की जा रही है.

-    चक्रवात वायु को देखते हुए पश्चिमी रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है और कई ट्रेनों के रूट बदल दिए हैं. इस चक्रवाती तूफान की वजह से कुल 110 ट्रेनें प्रभावित हुई हैं.

-    चक्रवाती तूफान वायु के दौरान लोगों की मदद करने के लिए जिला प्रशासन और एनडीआरएफ ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं.

एनडीआरएफ का हेल्पलाइन नंबर- 91-9711077372 है.

जामनगर कंट्रोल रूम नंबर: 0288-2553404

द्वारका कंट्रोल रूम नंबर: 02833-232125

पोरबंदर कंट्रोल रूम नंबर: 0286-2220800

दाहोद कंट्रोल रूम नंबर: 02673-239277

नवसारी कंट्रोल रूम नंबरः 02637-259401

पंचमहल कंट्रोल रूम नंबर: +912672242536

छोटा उदयपुर कंट्रोल रूम नंबर: +912669233021

कच्छ कंट्रोल रूम नंबर: 02832-250080

राजकोट कंट्रोल रूम नंबर: 0281-2471573

अरावली कंट्रोल रूम नंबर: +912774250221

Source : Agency