इंदौर
 पितृ पर्वत पर प्रदेश की सबसे ऊंची 66 फीट की हनुमान प्रतिमा तैयार हो गई है। सोना-चांदी, तांबा, जस्ता, सीसा, कैडियम जैसे अष्ट धातु से बनी इस प्रतिमा पर लगभग 11 करोड़ रुपए खर्च हुए। अब प्रतिमा के आसपास एलईडी की रंगीन लाइटें लगाई जाएंगी। उसके बाद एक बड़े समारोह में इसका अनावरण किया जाएगा। मूर्तिकार प्रभात रॉय के मुताबिक, मूर्ति का वजन करीब 108 टन है।

इसमें 9 टन की गदा और 3 टन की उनकी छतरी है। इस छतरी पर 9 इंच आकार में 108 बार राम नाम गुदा हुआ है। हनुमानजी के हाथ में जो मंजीरे हैं, उनकी लंबाई 11 फीट है। भगवान राम की भक्ति में बैठे हनुमान की इस प्रतिमा के साथ 15 बाय 12 फीट की रामकथा भी तैयार की गई है। प्रदेश की यह सबसे ऊंची इस प्रतिमा है।

Source : Agency