भोपाल 
बिजली कटौती के विरोध में भजपा ने प्रदेश भर में 'लालटेन यात्रा' निकाली. शाजापुर के शुजालपुर में भाजपा के इस अनोखे विरोध प्रदर्शन में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शामिल हुए. विरोध प्रदर्शन के बाद आयोजित सभा में उन्‍होंने प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा और सीएम कमलनाथ को कलंकनाथ बताया. शिवराज ने कहा की कमलनाथ सरकार तबादलों में लगी हुई है और प्रदेश की पूरी व्यवस्था चरमरा गई है.

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए. उन्होंने कमलनाथ सरकार को कलंकनाथ सरकार करार दिया. शिवराज सिंह ने कहा, 'प्रदेश में आज अराजकता का माहौल बन गया है. चोरी, डकैती शुरू हो गई है. लूट-हत्या , बलात्कार हो रहे हैं. बेटियों के साथ दरिंदगी हो रही है. जैसा राजा होगा वैसे ही उसके व्यवस्थापक भी होंगे.'
 
चौहान ने प्रदेश में बिजली की किल्लत पर कहा कि हम बिजली निर्बाध रूप से पहुंचाने का काम कर रहे थे, लेकिन आज बिजली कहां चली गई लोगों को पता ही नहीं चल रहा. कांग्रेस सरकार में है और कांग्रेसी हमारे ऊपर बिजली कटाने का आरोप लगा रहे हैं. मामा के राज में कभी बिजली नहीं जाती थी.
 
इस विरोध प्रदर्शन में ख़ास बात यह रही कि कैंडल मार्च जहां-जहां से गुजरना था, वहां पहले ही बिजली विभाग का अमला तैनात रहा. रास्ते में पड़ने वाले किसी भी स्थान पर बिजली की कटौती न हो इसके लिए दोपहर 2 बजे से रास्ते के सभी 5 ट्रांसफार्मर दुर्गा मंदिर, पुलिस चौकी, पुरानी इंदौर बैंक के पास, एटीएम चौराहा व रोकडीया हनुमान चौक के पास लगे ट्रांसफार्मर के फ्यूज बदल दिए गए. इन सभी ट्रांसफार्मरों पर लाइनमैन के साथ ही एक सहयोगी की ड्यूटी भी लगाई गई ताकि अचानक फाल्ट आने की स्थिति में तत्काल सुधार किया जा सके. बिजली कंपनी के उपयंत्री शहर राजीव पटेल ने इसकी पुष्टि की.

Source : Agency