नई दिल्ली
जम्मू-कश्मीर में आतंक की घटनाएं लगातार बढ़ रही है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अब आतंक की कमर तोड़ने का फैसला कर लिया है. इसके चलते गृह मंत्रालय ने एक नया टेरर मॉनिटरिंग ग्रुप बनाने का फैसला किया है.

आतंकी हमलों पर लगाम लगाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रलाय ने टेरर मॉनिटरिंग ग्रुप बनाया है. जम्मू-कश्मीर के एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DGP) CID इस ग्रुप की अध्यक्षता करेंगे. इसके अलावा IB, NIA, CBI, CBIC, CBDT और ED सदस्य भी इसके प्रतिनिधि होंगे.

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक टेरर मॉनिटरिंग ग्रुप अब बहुत सक्रिय हो गया है और सभी एजेंसियों द्वारा की गई ठोस कार्रवाई अब घाटी में आतंक के फाइनेंसरों को बड़ा झटका देगी.

केंद्र में दोबारा सरकार आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी SCO समिट में शामिल हो गए थे. यहां भी प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा जमकर उठाया. यहां पीएम मोदी ने साफ कहा कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए साथ में आना होगा और इसका सफाया करना होगा. SCO समिट में प्रधानमंत्री मोदी ने श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए आतंकी हमले का भी जिक्र किया.

गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में 46 जवान शहीद हो गए थे. वहीं अभी हाल में ही अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे. ऐसे में आतंक पर लगाम लगाने के लिए केंद्र सरकार से कठोर कार्रवाई करने की मांग की जा रही थी. इस प्रकार की सभी घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए गृह मंत्रालय ने ये कदम उठाया है.

Source : Agency