घर का मुख्‍य अंग होता है किचन यानी कि रसोई घर क्‍योंकि यहां पर खाना बनता है जिसे पूरा परिवार खाता है। इस‍ीलिए कहा जाता है कि जब भी खाना बनाएं खुश होकर बनाएं, तो जो भी व्‍यक्ति वह खाना खाएगा वह भी खुश होगा। लेकिन यदि आप किसी नाराजगी में खाना बनाते हैं तो आप देखेंगे कि खाना खाने वाले को भी गुस्‍सा ही आएगा। शास्‍त्रों में भी लिखा है ‘जैसा खाओ अन्‍न, वैसा रहेगा मन।’ इसके साथ ही रसोई घर और वहां रखी जाने वाली वस्‍तुओं की यदि सही दिशा नहीं होती तो भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। फेंग शुई के अनुसार किचन के साथ ही ऐसी 5 चीजें हैं जिन्‍हें किचन में रखते समय उनकी दिशा का खास ख्‍याल रखना चाहिए।

फेंग शुई के अनुसार रसोई घर क्‍योंकि हमारे घर का सबसे महत्‍वपूर्ण अंग है इसलिए इसकी दिशा हमेशा पूर्व व आग्‍नेय होनी चाहिए। इससे घर में संपन्‍नता तो होती ही है। साथ ही परिवार के सभी सदस्‍यों का स्‍वास्‍थ्‍य भी सही रहता है। इसके अलावा कभी भी परिवार में अन्‍न की कमी नहीं होती। भंडार हमेशा अन्‍न से भरा-पूरा रहता है।

रसोई घर का दरवाजा खुला हो, अन्‍यथा ऊर्जा के प्रवाह में बाधा आती है। इससे परिवार के सदस्‍यों को उस रसोई घर में बना खाना खाने से बीमारियां हो सकती हैं। ऐसे में ख्‍याल रखें कि दरवाजा फ्रिज और चूल्‍हे के सामने न हो। यदि ऐसा नहीं है तो आप वहां पर क्रिस्‍टल लगा सकते हैं। इससे नकारात्‍मक शक्तियों का प्रभाव कम हो जाएगा।

रसोई घर में चूल्‍हा सबसे महत्‍वपूर्ण एलिमेंट होता है। इसपर ही परिवार के सदस्‍यों के लिए खाना पकाया जाता है। फेंग शुई के अनुसार चूल्‍हे को ऐसी जगह पर रखना चाहिए कि जब भी आप खाना पका रही हों और कोई किचन में प्रवेश कर रहा हो तो वह आपको दिखाई दे। ख्‍याल रखें कि कभी भी दरवाजे की ओर पीठ न करें। लेकिन अगर ऐसा है तो उसका प्रभाव कम करने लिए सामने की दीवार पर शीशा लगा सकते हैं। इससे किचन में प्रवेश करने वाला व्‍यक्ति आपको साफ-साफ दिखाई देगा। साथ ही नकारात्‍मकता का भी प्रभाव कम होगा।

माइक्रोवेव भी किचन के जरूरी समानों में से एक है और क्‍ योंकि यह धातु से जुड़ा है इसके लिए इसकी दिशा का सही होना बहुत जरूरी है। फेंग शुई के अनुसार माइक्रोवेव कभी भी दक्षिण-पश्चिम में न रखें। ऐसा करने से रसोई की ऊर्जा बाहर की ओर जाती है। ऐसे में माइक्रोवेव को उत्‍तर-पश्चिम या पश्चिमी क्षेत्र में रखें क्‍योंकि यह क्षेत्र धातु से जुड़ा है तो इससे आपको लाभ मिलेगा।

रसोई घर में फ्रिज कभी भी दक्षिण दिशा में न रखें। फेंग शुई के अनुसार फ्रिज को हमेशा ही दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखना चाहिए। इससे घर में परिवार के सभी सदस्‍यों के साथ प्रेम और विश्‍वास बढ़ता है। लड़ाई-झगड़ा नहीं होता शांति बनी रहती है। साथ ही संपन्‍नता भी आती है।

फेंग शुई कहता है किचन में सिंक की दिशा का सही होना बहुत जरूरी है। भूले से भी इसे दक्षिण दिशा में न लगवाएं क्‍योंकि दक्षिण दिशा अग्नि का स्‍थान मानी जाती है, तो इस तरह आग और पानी का मेल होना सही नहीं होता। नकारात्‍मक शक्तियों का वास होता है और लगातार परिवार के सदस्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य में गिरावट आती है। फेंगशुई के मुताबिक सिंक हमेशा उत्‍तरी क्षेत्र में लगवाना चाहिए। यह स्‍थान भी पानी का है।

Source : Agency