बर्मिंघम
एशलीग बार्टी ने रविवार को यहां बर्मिंघम डब्ल्यूटीए खिताब जीतकर विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज होने वाली दूसरी आस्ट्रेलियाई महिला खिलाड़ी बन गयी। फें्रच ओपन चैंपियन बार्टी ने फाइनल में जुलिया गार्जेस को 6-3, 7-5 से हराया। उनसे पहले यावोनी गुलागोंग कावली 1976 में दो सप्ताह के लिये शीर्ष रैंकिंग हासिल करने वाली पहली आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी बनी थी। बार्टी ने जापान की नाओमी ओसाका को महिला रैंकिंग में शीर्ष से हटाया। टेनिस आॅस्ट्रेलिया के प्रमुख क्रेग टिले ने इसे ‘उल्लेखनीय ऐतिहासिक उपलब्धि’ करार दिया। उन्होंने कहा कि इस उपलब्धि को हासिल करना वास्तव में काफी मुश्किल है। यह शानदार है। गुलागोंग ने उनकी तारीफ करते हुए कहा कि बार्टी का खेल का विकास कमाल का रहा है। उन्होंने कहा कि मैं उसे जानती हूं, वह इस बारे में विनम्र है। वह सिर्फ टेनिस कोर्ट पर वापसी कर अच्छे हिट लगाना चाहती है। वह नंबर एक की योग्य है और फे्रंच ओपन की जीत से उसका आत्मविश्वास काफी बढ़ेगा। यह पहला मौका है जब किसी आस्ट्रेलियाई महिला ने नंबर एक टेनिस रैंकिंग हासिल की है। उनसे पूर्व वर्ष 1976 में सात बार की ग्रैंड स्लेम चैंपियन गूलागोंग काउली इस स्थान पर आखिरी आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी थीं। 23 वर्षीय बार्टी ने बर्मिंघम क्लासिक में जीत के बाद कहा कि मैं तो काउली के नज़दीक भी नहीं हूं। लेकिन उनके साथ मेरा नाम लिया जाना बड़ी बात है।

बार्टी ने वर्ष 2019 की बेहतरीन शुरुआत की है और केवल छह मैच हारे हैं जबकि 36 मैच जीते हैं। उन्होंने बर्मिंघम क्लॉसिक में जर्मनी की जूलिया जार्जिस को लगातार सेटों में 6-3, 7-5 से हराकर खिताब जीता था, इसी के साथ उन्होंने पिछले लगातार 12 मैच जीतने का रिकार्ड भी कायम कर लिया है। उन्होंने कहा कि आप जिसका बचपन से सपना देखते हैं उसे हकीकत में बदलते देखना कमाल की बात है। मेरे और मेरी टीम के लिये यह कमाल का सफर है। मैंने इस वर्ष इसका लक्ष्य नहीं देखा था। मैंने बिना रैंकिंग के शुरूआत की थी और यह मेरे लिये बड़ी सफलता है। बार्टी ने अपने करियर की शुरूआत बतौर क्रिकेटर की थी और बिग बैश लीग में ब्रिसबेन हीट के लिये खेला करती थीं। अन्य महिलाओं में पूर्व नंबर एक अमेरिका की वीनस विलियम्स ने 11 स्थानों का सुधार करते हुये 55 से 44वां स्थान हासिल किया है। पांच बार की विंबलडन चैंपियन को क्वार्टरफाइनल में अंतत: चैंपियन बनी बार्टी से हार झेलनी पड़ी थी। पूर्व नंबर एक अन्य खिलाड़ी रूस की मारिया शारापोवा ने भी पांच स्थानों का सुधार किया है और 85वीं से 80वीं रैंकिंग पर पहुंच गयी हैं।
 

Source : Agency