भोपाल
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय पर तंज करते हुए कहा कि उम्मीद नहीं थी कि आकाश विजयवर्गीय ऐसा करेंगे. उन्होंने कहा कि लगते तो बहुत भोले और सुसंस्कृत हैं. दिग्विजय सिंह ने कहा कि यह भाजपा के कार्यकर्ताओं ने देश के अंदर ऐसी ही संस्कृति बना दी है. उनके लिए कानून कोई चीज नहीं है. खुद ही अदालत, खुद की पुलिस की मानसिकता से ग्रस्त हैं.

दिग्विजय सिंह ने कहा कि आकाश पहली बार चुनाव जीते हैं और अनुभव भी नहीं है. मैं नही जानता उन्होंने ऐसा क्यों किया? भाजपा के लिए सरकार कुछ नहीं है, ये लोग सिर्फ अहंकार में डूबे हुए हैं. यह संस्कार नरेंद्र मोदी और अमित शाह से मिले हैं.

गौरतलब है कि कोर्ट ने आकाश की जमानत याचिका खारिज कर दी है. अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया है. आकाश का सीआई जेल के लिए वारंट जारी हुआ है. उन पर बवाल, सरकारी काम में बाधा डालने समेत कई अन्‍य धाराओं में केस दर्ज किया गया है. आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ एमजी रोड थाने में FIR दर्ज कराई गई थी. उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 294, 506, 147 और 148 के तहत चार्ज लगाए गए हैं. ये धाराएं शासकीय कार्य में बाधा डालने, मारपीट और बलवा करने से जुड़ी हैं. न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, अदालत ने उन्‍हें 7 जुलाई तक न्‍यायिक हिरासत में भेजा है.

उधर कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल विधायक आकाश विजयवर्गीय पर धाराएं बढ़ाने और साथियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एडीजी वरुण कपूर से मिला. दल ने घटना के वक्त मौजूद पुलिस अधिकारियों को बर्खास्त करने की भी मांग की है. इस प्रतिनिधमंडल में शहर अध्यक्ष विनय वाकलीवाल, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल के साथ कांग्रेस पार्षद भी शामिल थे.

Source : Agency