नई दिल्ली

Gmail इस वक्त करोड़ों यूजर्स के साथ दुनिया का सबसे बड़ा ईमेल सर्विस प्रोवाइडर है। जीमेल अपने यूजर्स को कई ऐसी सर्विस भी देता है जिन्हें आम यूजर्स नहीं जानते। ज्यादातर यूजर्स जीमेल का इस्तेमाल ईमेल और अटैचमेंट भेजने व रिसीव करने के लिए करते हैं।
टेक्नॉलजी और डिजिटल मार्केटिंग के दौर में यूजर्स के पर्सनल ईमेल अकाउंट में रोज कई प्रमोशनल ईमेल भी आते हैं जिनका यूजर्स के कोई खास मतलब नहीं होता। इन ईमेल्स को समय पर अगर ना डिलीट किया जाए को कुछ ही दिन में ये हजार के आंकड़ें को भी पार कर जाते हैं। ऐसे ईमेल को यूजर्स आमतौर पर तुरंत डिलीट नहीं करते और देखते ही देखते इनबॉक्स ऐसे ईमेल्स से भर जाता है।
अगर आप भी उन यूजर्स में से हैं जो अपने भरे हुए इनबॉक्स को देखकर परेशान हो जाते हैं और उन फालतू ईमेल्स को चुन-चुन कर डिलीट करने की हिम्मत नहीं जुटा पाते, तो अब चिंता करने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको एक ऐसी ट्रिक बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने इनबॉक्स के फालतू ईमेल्स को ऑटोमैटिकली डिलीट कर सकेंगे।
ऑटोमैटिकली ऐसे डिलीट करें ईमेल
1- सबसे पहले आपको emailstidio.pro से अपने जीमेल अकाउंट में 'Email Studio' को इंस्टॉल करना है।
2- इसे इंस्टॉल होने दे और यहां बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।
3- जीमेल अकाउंट में जाकर इनबॉक्स के किसी भी मेसेज को ओपन करें।
4- यहां दाईं तरफ मौजूद ईमेल स्टूडियो आइकन पर क्लिक करें।
5-अपने जीमेल आईडी और पासवर्ड से लॉगइन करें।
6-लॉगइन के बाद लिस्ट में दिए गए 'ईमेल क्लीनअप' ऑप्शन पर टैप करें।
7-जीमेल से जो टास्क आप कराना चाहते हैं उसके लिए ऐड न्यू रूल पर क्लिक करें।
8- यहां आप नए रूल के तौर पर किसी खास ईमेल आईडी को मार्क कर सकते हैं।
9- इस प्रोसेस से आप जीमेल को कमांड दे सकते हैं कि किसी खास ईमेल आईडी से एक महीने या हफ्ते के अंदर रिसीव किए गए सभी ईमेल्स को पर्मानेंट डिलीट करे।
10- ऐसा करने के बाद सेव बटन पर टैप कर दें। इसके बाद बैकग्राउंड में ईमेल स्टूडियो लॉन्च हो जाएगा।

11- ऐसा होते ही जीमेल आपके द्वारा सेट किए गए रूल्स को अप्लाई करते हुए आपके चुनें हुए ईमेल अड्रेस से आए मेसेजेस को ऑटोमैटिकली डिलीट कर देगा।
ईमेल स्टूडियो इसके अलावा और भी कई टास्क करता है जिनमें मेल मर्ज, ईमेल शेड्यूलर, ऑटो रिस्पॉन्डर और ईमेल फॉरवर्डर शामिल हैं। अगर आप ईन सभी सर्विसेज का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए प्रीमियम वर्जन इंस्टॉल करना होगा जो ऐनुअल सबस्क्रिप्शन चार्ज के साथ आता है।

Source : Agency