रायगढ़
 रेलवे स्टेशन पर केवल रेल नीर का पानी की बोतल बेचने का नियम है। पर रेल नीर का प्रोडक्शन कम होने से 6 अन्य ब्रांड को स्टेशन में बेचने की अनुमति दी गई है। बावजूद इसके स्टॉल संचालक जिन लोकल ब्रांडों में ज्यादा फायदा मिल रहा है, उसे ट्रेनों और स्टेशनों में बेच रहे हैं। ऐसे में रेलवे ने ऐसे सस्ते ब्रांड की पानी बोतलों को जब्तकर उसे यात्रियों में फ्री में बांटने का निर्णय लिया है।
अप्रूव्ड ब्रांड के अलावा किसी अन्य का मिला तो यात्रियों में बंटेगा

    इस संबंध में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं। कमर्शियल इंस्पेक्टर ने इस आदेश की कॉपी को सभी स्टॉलों पर चिपका दिया है। इसके मुताबिक रेल नीर और अन्य 6 अप्रूवड ब्रांड के अलावा स्टालों में किसी अन्य ब्रांड का पानी बोतल मिलने पर यात्रियों को फ्री में बांटना होगा। बिलासपुर मंडल के वाणिज्य विभाग ने यह नियम लगभग एक माह पहले ही जारी किया था। इसके बाद कई बार कार्रवाई भी हुई।

    आरपीएफ ने जब्त की बोतलें मगर बांटी नहीं

    रेलवे बोर्ड चेयरमैन और आरपीएफ डीजी के बीच बैठक में यह तय हुआ था कि देशभर में सस्ते व अमानक पानी बोतल बेचने के खिलाफ एक साथ छापामार अभियान चलाया जाए। आदेश के बाद ही सोमवार को रायगढ़ स्टेशन में आरपीएफ ने एक्वा ब्लू के 42 बॉटल जब्त किए थे। मगर उन्हें किसी यात्रियों में नहीं बांटे। जबकि जैसा निर्देश आया है,उसके अनुसार सारी बोतलों को आरपीएफ को यात्रियों को बांट देनी चाहिए थीं।

Source : Agency