इंदौर
नर्मदा बचाओ आंदोलन की प्रमुख मेधा पाटकर और कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण के बार प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि सरदार सरोवर बांध को पूरा न भरा जाए। इनका कहना है कि आज भी कई लोग अपने गांवों में निवास कर रहे हैं, जब तक पूर्ण पुनर्वास नहीं हो जाता तब तक बांध को पूरा नहीं भरा जा सकता। इस पर सरदार सरोवर बांध 138 मीटर तक भरे जाने की तैयारी की जा रही है। इस बार खलघाट तक इसका बैक वॉटर आ जाएगा। उधर एनबीए कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी है कि अगर ऐसा किया गया तो वे बड़ा आंदोलन करेंगे।

एक व्यक्ति ने यह भी बताया कि सूची में मेरी माता का नाम है। लेकिन मेरा नहीं, मेरे पास पट्टा भी है, लेकिन अधिकारी कहते हैं कि सर्वे में आपका नाम नहीं है। उसने कहा कि मैं भटक-भटककर परेशान हो गया हूं। मेरे पास सभी डॉक्यूमेंट भी हैं, लेकिन फिर भी कोई सुनने को तैयार नहीं है।

Source : Agency