जबलपुर
कटंगी बायपास स्थित स्कोडा कार के सागर आटोटेक प्राइवेट लिमिटेड शोरूम में ईओडब्ल्यू का छापे से शहर के तमाम वाहन शोरूम संचालकों में हड़कंप मच गया। वाहन की कीमत में लाखों का हेरफेर कर परिवहन विभाग में कम कीमत दर्शाकर टैक्स चोरी करने की शिकायत पर एसपी ईओडब्ल्यू के निर्देश पर निरीक्षक स्वर्णजीत सिंह धामी टीम के साथ मौके पर कार्रवाई कर दस्वोजों की जांच कर रह हैं। ईओब्ल्यू ने 420, 467,468 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।
 
जानकारी के मुताबिक सागर आटोटेक प्राईवेट लिमिटेड द्वारा वर्ष 2018 एवं 2019 में100 से अधिक लग्जरी वाहनों का विक्रय किया गया है। बेचे गए कई वाहनों के संबंध में विक्रय मूल्य से कम कीमत की इन्वाइस परिवहन विभाग को जारी कर मोटरयान कर में हानि पहुंचाई गई है। साथ ही सागर आटोटेक द्वारा इसी प्रकार कम कीमत की इन्वाइस बनाकर जीएसटी कर की चोरी कर शासन को क्षति पहुंचाई जाने की आशंका भी जांच अधिकारियों ने जाहिर की है।

टैक्स चोरी की 3 अहम शिकायतें

  1. शुभम अरोरा निवासी पांडव नगर शहडोल को 2 मार्च 2019 को स्कोडा कोडियेक वाहन इंजन नम्बर 102497, चेचिस नम्बर 400120 विक्रय किया गया था। शुभम अरोरा को दी गई इन्वाइस में कार की कीमत 36 लाख 34990 है, जबकि डीलर द्वारा उक्त वाहन की 26 मार्च 2019 को परिवहन विभाग को भेजी गई इन्वाइस में वाहन का मूल्य 27 लाख " जारी किया गया है। डीलर ने परिवहन विभाग को जारी की गई इन्वाइस में 9 लाख 34990 रुपए कम कीमत कम बताकर कीमत के 9 प्रतिशत के रुप में 84 हजार रूपए की हानि पहुंचाई गई।
  2. रोहित तिवारी शास्त्री नगर गढ़ा जबलपुर को 31 अक्टूबर 2017 को स्कोडा रेपिड वाहन बेचा गया था। रोहित को प्रदाय दी गई इन्वाइस में कार की कीमत 34 लाख 49501 रुपए है। डीलर ने 2 मई 2018 को परिवहन विभाग को भेजी गई इन्वाइस में कार की कीमत 30 लाख 49501 रुपए बताते हुए 36000 की टेक्स चोरी की गई।
  3. राहुल राज जैन निवासी गोटेगांव को 7 नवम्बर 2018 को स्कोडा रेपिड बेची गई। राहुल को दी गई इन्वाइस में कार की कीमत 12 लाख 30 हजार रुपए दर्शाते हुए 29 दिसम्बर 2018 को परिवहन विभाग को भेजी गई इन्वाइस में विक्री मूल्य 8 लाख 31612 रुपए दिखाते हुए मोटरयान टैक्स के 31355 रुपए चोरी किए गए। 
Source : Agency