भोपाल

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने कहा है कि हिन्दुस्तान संभावनाओं का देश है और ह्रदय-स्थल मध्यप्रदेश में शिक्षा एवं खेल क्षेत्र में अपार संभावनाएँ हैं। पटवारी लंदन में ब्रिटिश पार्लियामेन्ट में 'एक्सप्लोरिंग कोलेबरेशन इन एजुकेशन एण्ड यूथ वेलफेयर एण्ड स्पोर्ट्स बिटवीन द यू के एण्ड इंडिया (म.प्र.)' परविचार व्यक्त कर रहे थे।

मंत्री पटवारी ने कहा किपिछले कई दशक से भारत और यू के का अटूट रिश्ता रहा है। यू के ने हमेशा ही भारत का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश निवेश की दृष्टि से एक मुख्य विकल्प के रूप में भारत में उभरा है। प्रदेश में औद्योगिक निवेश को प्रोत्साहित करने के लिये हमने सेक्टरवाईज नीतियाँ बनाई हैं। अक्टूबर माह में इंदौर में 'मेग्नीफिशिएंट मध्यप्रदेश' इन्वेस्टर समिट की जा रही है। पटवारी ने कहा कि निवेश प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता के साथ काम होगा। प्रदेश के लोगों को रोजगार मिले, इसके लिये सुनियोजित तरीके से काम किया जायेगा।

मंत्री पटवारी ने कहा कि शिक्षा और खेल के क्षेत्र में मध्यप्रदेश में कई नये नवाचार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कैम्ब्रिज एसेसमेंट इंग्लिश द्वारा किये जा रहे नवाचारों में लगभग 80 प्रतिशत पर मध्यप्रदेश में पिछले छ: महीनों से काम शुरू किया जा चुका है। यह गौरव की बात है।

कौशल और खेल विश्वविद्यालय की स्थापना

उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने जानकारी दी कि जल्द ही इंदौर में कौशल और खेल विश्वविद्यालय की स्थापना की जायेगी। उन्होंने कहा कि औद्योगिक ईकाइयाँ ऐसे पाठ्यक्रम तैयार कर हमें दें, जो उद्योगों की आवश्यकताओं और प्रोडक्ट पर आधारित हो। इससे हम अपने विद्यार्थियों को उनके अनुरूप तैयार कर सकेंगे।

इस अवसर पर इण्डो-ब्रि‍टिश ऑल पार्टी पार्लियामेन्ट्री ग्रुप के चेयरमेन वीरेन्द्र शर्मा, एक्ज़ीक्यूटिव प्रेसीडेंट एवं ग्लोबल पॉलिसी इन्साइट्स के को-फाउण्डर उदय नागराजू, लंदन के डिप्टी मेयर राजेश अग्रवाल, यूनिवर्सिटी ऑफ यूके इंटरनेशनल के रीजनल नेटवर्क चेयरमेन केविन बेथ, सीनियर पॉलिसी एडवाईजर सुएना सोनले, एसोसिएशन ऑफ कामनवेल्थ यूनिवसिर्टीज के चेयरमेन कुडज़ई मुरोन्ज़ी तथा आयुक्त उच्च शिक्षा राघवेन्द्र सिंह भी उपस्थित थे।

Source : Agency