भोपाल
 मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा परीक्षा फीस में की गई बढ़ोतरी पर मु्ख्यमंत्री कमलनाथ की नाराजगी के बाद बढ़ी फीस का फैसला वापस ले लिया गया है। अब आवेदक पुरानी फीस से ही आवेदन कर सकेंगे। मुख्यमंत्री ने बगैर जानकारी लिए इस निर्णय के संज्ञान में आते ही इस पर तत्काल पुनर्विचार कर फीस वृद्धि पर रोक लगाने को कहा था।

हाल ही में एमपी-पीएससी ने किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के लिए सहायक संचालक के लिए जारी किए नोटिफिकेशन के साथ ऑनलाइन आवेदन व परीक्षा फीस सामान्य वर्ग के लिए 1200 से बढ़ाकर 2500 रुपए कर लागू की गई थी। आरक्षित वर्ग के लिए 600 से बढ़ाकर 1250 रुपए की गई है। वहीं राज्य सेवा परीक्षा व राज्य वन सेवा 2019 के नोटिफिकेशन के साथ इसकी फीस तीन गुना बढ़ाई गई। यह मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा था कि हमारी सरकार युवाओं को रोजगार देने के वचन को लेकर काम कर रही है। प्रदेश में बेरोजगारी दूर करने और युवाओं को रोजगार देने के लक्ष्य को लेकर राज्य सरकार लगातार काम कर रही है। ऐसे में सीएम ने फीस बढ़ाने के इस निर्णय को पूरी तरह से अनुचित बताया था।

Source : Agency