नई दिल्ली
देश के गृह मंत्री और पूर्व बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने नजफगढ़ में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शाहीन बाग की चर्चा की। उन्होंने कहा कि 8 फरवरी को लोगों का हर एक वोट बताएगा कि वे शाहीन बाग के साथ हैं या भारत माता के साथ। शाह ने आगे कहा कि लोग इतने जोर से ईवीएम का बटन दबाएं कि शाहीन बाग में करंट लगे। उन्होंने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर दंगे भड़काने के भी आरोप लगाए।

नजफगढ़ में गृह मंत्री ने कहा, '8 तारीख को जब आप मतदान करें, तो ऐसे मत सोचना कि आपका एक वोट अजीत भाई को विधायक बनाएगा। आपका एक वोट पूरे देशभर में यह संदेश देनेवाला है कि नजफगढ़ शाहीन बाग वालों के साथ है या भारत माता के बेटों के साथ।' आपको बता दें कि नजफगढ़ से अजीत खड़खड़ी बीजेपी के उम्मीदवार हैं।

शाह ने केजरीवाल से मांगा जवाब
अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) की अनिवार्यता समझाते हुए कहा, 'केजरीवाल और कांग्रेस पार्टी लोगों को उकसाती है। उनको उकसाया, दंगे कराए। कहते हैं कि हम इनके साथ हैं। आज भी मनीष सिसौदिया ने कहा कि हम शाहीन बाग के साथ हैं। मैं फिर से नजरफगढ़ की वीर भूमि से केजरीवाल से पूछता हूं कि आप शाहीन बाग के साथ हैं क्या? केजरीवाल 'ना' नहीं कहते हैं।

पूछा, केस चलाने की दोगे मंजूरी?
अमित शाह ने कहा, 'कल हमने शरजील इमाम को बिहार से पकड़ा है। उसने कहा कि भारत के टुकड़े कर दो। जेएनयू में नारे लगे थे कि भारत तेरे टुकड़े हों हजार। हमने कन्हैया और उमर खालिद को जेल में डाला, केजरीवाल सरकार इनके खिलाफ केस चलाने की मंजूरी नहीं देती है। ये आप पार्टी वाले वोट मांगने आएं तो पूछना कि खालिद और कन्हैया के खिलाफ केस चलाने की मंजूरी क्यों नहीं दी? मैं फिर केजरीवाल से पूछना चाहता हूं कि आप खालिद के खिलाफ केस की मंजूरी दोगे? शरजील के खिलाफ केस चलाने की अनुमति दोगे क्या?

'दिल्ली के एक तिहाई लोगों को पाकिस्तानी कहते हो?'
अमित शाह ने कहा, 'केजरीवाल कहते हैं कि बीजेपी को पाकिस्तान वालों से प्यार हैं। केजरीवाल सुन लो, दिल्ली के एक तिहाई लोग जो हैं वो पाकिस्तान से आए थे, उनको आप पाकिस्तानी कहते हो? चुल्लू भर पानी में डूब मरो। शर्म करो। पाकिस्तान में जिन पर अत्याचार हुए, उन्हें नागरिकता देकर मोदी जी ने उनके मानव अधिकारों का संरक्षण करने का काम किया है।'

Source : Agency