रायपुर
मरार पटेल समाज, कर्मचारी प्रकोष्ठ की कार्यकारिणी की बैठक कोरोना के चलते आॅनलाइन आयोजित की गई। इसमें प्रदेशभर से 60 पदाधिकारी शामिल हुए और समाज की गतिविधियों को लेकर चर्चा की। सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है कि समाज की प्रतिभाओं को निखारने और अन्य बच्चों, युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए उनका सम्मान किया जाएगा।

आनलाइन बैठक में सदस्यों ने कहा कि इस साल कोरोना महामारी के चलते कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया। अब समाज की गतिविधियों को धीरे-धीरे आगे बढ़ाने की दिशा में कार्य योजना बनानी होगी, ताकि फिर से समाज में उत्साह का माहौल शुरू हो। इसके लिए जनवरी माह में बड़ा आयोजन किया जाएगा। बैठक में फैसला लिया गया कि प्रथम महिला शिक्षिका माता सावित्री बाई फुले की जयंती के अवसर पर तीन जनवरी 2021 को प्रदेश स्तरीय प्रतिभा सम्मान का आयोजन रायपुर में किया जाएगा। इस प्रतिभा सम्मान में शिक्षा-सत्र 2019-20 में कक्षा 10वीं और 12वी में 75 फीसद से अधिक अंक हासिल करने वाले समाज के विद्यार्थियों को सम्मानित किया जाएगा।

इसके साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य कर रहे समाज सेवकों और शिक्षा-विदों को माता सावित्री बाई फुले और महात्मा ज्योतिबाफुले सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। कर्मचारी प्रकोष्ठ के इस निर्णय का समाज के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र नायक पटेल ने स्वागत करते हुए कहा कि इसी दिन समाज के शादी योग्य युवक-युवती परिचय माला पत्रिका का विमोचन और युवक-युवती परिचय सम्मेलन का भी आयोजन होगा। प्रकोष्ठ के प्रवक्ता भानु प्रताप पटेल ने बताया कि कोविड-19 के मद्देनजर यह कार्यक्रम शासन के दिशा निर्देश के अनुसार ही आयोजित किया जाएगा। सभी नियमों का पालन करेंगे। बैठक में प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष लिलार सिंह पटेल, सलाहकार पंकज पाटिल, खेलसिंह नायक, दीपक पटेल, केशव पटेल, खुमानचंद पटेल, भीखम माली, धनेश्वर पटेल, रामेश्वर पटेल समेत अनेक पदाधिकारियों की वर्चुअल उपस्थिति रही।

Source : Agency