कवर्धा
धान खरीदी केन्द्रों में अमानक और अवैध धान खरीदी को रोकने और ऐसे प्रकरणों में संबंधित व्यक्तियों पर जिला प्रशासन की टीम द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रही है। कवर्धा राजस्व अमले की टीम ने आज फिर कवर्धा विकासखण्ड के रबेली और जिन्दा धान खरीदी केन्द्रों में दो अलग-अलग किसानों से 120 क्विंटल अवैध और अमानाक धान जब्त की है। यह कार्यवाही कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा के मार्गदर्शन और कवर्धा एसडीएम विनय सोनी के निर्देश पर नायाब तहसीलदार राधेश्याम वर्मा के नेतृत्व में कृषि विभाग और राजस्व अमले की संयुक्त टीम द्वारा की गई।

कवर्धा विकासखण्ड के धान खरीदी केंद्र जिंदा में रामानुज निवासी ग्राम कुटकीपारा द्वारा अपने खाते में धरमपुरा निवासी मोहन साहू का धान विक्रय करते हुए पकड़ा गया। पंजीकृत कृषक रामानुज का धान उपार्जन केंद्र जिंदा में 37.20 क्विंटल का टोकन जारी हुआ था। इसी प्रकार धान खरीदी केंद्र रवेली का आकस्मिक निरीक्षण करने पर जुड़ावन जायसवाल, निवासी ग्राम सूरजपुरा द्वारा 101 क_ा धान पुराना और 113 कट्टा क्रय किया हुआ धान बिक्री करते हुए पकड़ा गया। जुड़ावन जायसवाल का धान खरीदी केंद्र रवेली में 100 क्विंटल का टोकन जारी हुआ था। उसके द्वारा आज कुल 264 क_ा धान बिक्री करने के लिए लाया गया था। दोनों ही किसानों से पूछताछ करने पर संतोषजनक जवाब नहीं देने पर, साथ ही संबंधित ग्राम वासियों से पूछताछ करने पर उनका स्वयं का धान होने की पुष्टि नहीं होने पर दोनों ही कृषकों से धान की जब्ती कर ली गई है। रामानुज साहू निवासी ग्राम कुटकीपारा से 50 क_ा धान (मात्रा लगभग 20 क्विंटल) एवं जुड़ावन जायसवाल निवासी ग्राम सूरजपुरा से 264 कट्टा पतला धान (मात्रा लगभग 100 क्विंटल) की जब्ती बनाई गई है। जब्ती की टीम में नायाब तहसीलदार राधेश्याम वर्मा, हल्का पटवारी रवेली सतीश चंद्राकर, हल्का पटवारी जिंदा शिव कुमार पाली, कृषि विस्तार अधिकारी अनुज प्रकाश साहू कवर्धा उपस्थित रहे।

Source : Agency