विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा ने नगर पालिका अधिकारियों की बैठक ली
इटारसी। विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा ने शहर में पेयजल संकट पर चिंता जताते हुए आज नगर पालिका में सीएमओ सहित जल विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने वर्तमान में हो रहे जलप्रदाय की जानकारी ली तथा जलसंकट वाले वार्डों में नगर पालिका ने अब तक क्या किया है, इसके विषय में अधिकारियों से पूछा। बैठक में एसडीएम हरेन्द्र नारायण को भी आमंत्रित किया गया था, लेकिन वे बैठक में उपस्थित नहीं हुए।
विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा शर्मा ने मंगलवार को नगर पालिका पहुंचकर शहर में पेयजल संकट से निबटने नगर पालिका के इंतजामों की जानकारी ली। उन्होंने जल आवर्धन योजना, समवेल, धौंखेड़ा से होने वाली वाटर सप्लाई के विषय में पूछा तथा जल संकट के समाधान के लिए और क्या हो सकता है, इसके विषय में मौजूद पार्षदों से भी सुझाव मांगे। इस दौरान पार्षदों से बुधवार तक सीएमओ हरिओम वर्मा को अपने वार्डों में जलकूप खनन की आवश्यकता लिखित में देने को कहा। बैठक में सभापति रेखा मालवीय, राकेश जाधव, जसबीर सिंघ छाबड़ा, भरत वर्मा, पार्षद राजकुमार यादव, जयकिशोर चौधरी, नीलेश चौधरी, संतोष राजवंशी, जगदीश मालवीय, सब इंजीनियर संतोष सिंह बैस, मुकेश जैन, आदित्य पांडेय,  रीना सिंह व अन्य मौजूद थे। 
जल आवर्धन योजना पर मंथन
विधायक डॉ. शर्मा ने जल आवर्धन योजना से पेयजल सप्लाई की स्थिति की जानकारी ली तो बताया गया है कि तवा में पानी की बेहद कमी है। ऐसे में वहां से पानी दिया जाना संभव नहीं है। विधायक डॉ. शर्मा ने कहा कि वे कलेक्टर से बात करेंगे कि यदि तवा डेम से आगामी कुछ दिनों के लिए पानी मिल जाए तो पेयजल की समस्या हल हो जाएगी। बताया गया है कि तवा में जब पानी था तो कमला नेहरु पार्क, अस्पताल परिसर और जनता स्कूल परिसर की टंकियों को लोड करके टेस्टिंग की जा चुकी है। 
चार टैंकर और बढ़ाए जाएंगे
नगर पालिका फिलहाल पुरानी इटारसी और नयी इटारसी के जलसंकट वाले क्षेत्रों में कुल सोलह टैंकरों से पेयजल की सप्लाई कर रही है। वार्डों में जिन नलकूपों से पेयजल सप्लाई होती थी, उनमें से आधे से ज्यादा नलकूप बंद हो चुके हैं और जितने शेष हैं उनमें भी आधों से कुछ समय पानी मिल रहा है। 3 फायर पाइंट न्यास बायपास, पीपल मोहल्ला और विश्वनाथ चौराहे से टैंकर भरे जा रहे हैं। विधायक डॉ. शर्मा ने कहा कि टैंकरों की संख्या बढ़ाएं तो सीएमओ हरिओम वर्मा 4 और टैंकर बढ़ाने के निर्देश दिए। 
पार्षदों के घर रोज आ रहे फोन
गर्मी के शुरुआत में केवल पुरानी इटारसी क्षेत्र में पानी का संकट था। वर्तमान में शहर के अनेक हिस्सों में पानी का संकट हो रहा है। ऐेसे में शहर के पार्षद इस बात से परेशान हैं कि उनके यहां रोज पानी को लेकर फोन आ रहे हैं और नगर पालिका पानी की पर्याप्त सप्लाई नहीं कर पा रही है। सोलह टैंकरों के बावजूद शहर में पानी की कहीं ने कहीं कमी बनी हुई है। बैठक में पार्षदों ने बताया कि रोज लोगों के फोन आ रहे हैं। जल समिति सभापति रेखा मालवीय ने बताया कि वे स्वयं अपने घर से पानी दे रही हैं।
नलकूप अधिग्रहण पर भी बात हुई
विधायक के समक्ष पार्षदों ने बात रखी कि कुछ निजी नलकूपों में अच्छा पानी है, यदि उनको अधिग्रहण करके लोगों को पानी उपलब्ध कराया जाए तो समस्या का काफी हद तक समाधान हो सकेगा। इसके लिए विधायक ने सहमति दी और मुख्य नगर पालिका अधिकारी हरिओम वर्मा ने कहा कि वे इस विषय में जल्द ही एसडीएम हरेन्द्र नारायण से बात करके इस पर सहमति लेकर उनके आदेश ले लेंगे ताकि लोगों को पानी मिल सके। कई निजी नलकूपों में अच्छा पानी आ रहा है जिससे संकट हल हो सकेगा।
इनका कहना है....
मुख्य रूप से पेयजल विषय पर बैठक थी। अधिकारियों से बातचीत करके निर्देश दिये हैं। करीब तीन वर्ष पूर्व विधायक वृक्ष मित्र योजना को सबके सहयोग से सफलता मिली थी, ऐसी ही योजना हम जल्द ही रेन वाटर हार्वेस्टिंग के लिए प्रारंभ करने वाले हैं ताकि हमारे नगर का जलस्तर बढ़ सके और भविष्य में जलसंकट से हमारा शहर बच सके।
डॉ.सीतासरन शर्मा, विधायक