इंदौर
 मध्य प्रदेश में उपचुनाव (By-Election) की सरगर्मी के बीच कोविड-19 (Covid-19) को लेकर जारी सरकारी दिशा निर्देशों की खुलकर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. ऐसा ही एक मामला इंदौर में बीते 19 अक्टूबर को सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) के रोड शो में देखने को मिला. यहां बीजेपी नेता द्वारा ही रोड शो में कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर जारी दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया गया. इसके खिलाफ स्थानीय प्रशासन ने बीजेपी नेता पर कार्रवाई की है. इंदौर के सांवेर क्षेत्र में हुए सीएम शिवराज के रोड शो के बाद बीजेपी नेता के ​खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

मध्य प्रदेश में उपचुनाव में सभी 28 सीटों पर जीत के लिए राजनीतिक दल जोर आजमाइश कर रहे हैं. इसके तहत ही इंदौर में बीते सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का रोड शो सांवेर तहसील में हुआ. इस रोड शो में सोशल डिस्टेसिंग के अलावा मास्क व अन्य जरूरी दिशा निर्देशों का उल्लंघन करते बीजेपी नेता दिनेश भावसार पाए गए. इसके बाद प्रशासन ने दिनेश भावसार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है.


नेताओं की फिसल रही जुबान
मध्य प्रदेश में उपचुनाव के प्रचार के दौरान नेताओं की जुबान भी फिसल रही है. पूर्व सीएम व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने एक सभा के दौरान मंत्री इमरती देवी को आइटम कह दिया. कमलनाथ के इस बयान के बाद सियासी भूचाल आ गया. सीएम शिवराज व बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ के इस बयान की निंदा की और 1 घंटे का मौन व्रत रखा. इसके अलावा कमलनाथ पर जमकर जुबानी तंज भी कसे गए. फिर आखिरकार कमलनाथ ने बयान पर अपनी सफाई दी और कहा कि उनका उद्देश्य किसी की भावना को ठेस पहुंचाना नहीं था.

Source : Agency