रायपुर
आखिरकार लंबे समय से पांच साल में जर्जर हो चुके रायपुर-बिलासपुर हाईवे पर बने पुराने धनेली पुल को सोमवार की रात में  तीन सेकंड में ढहा दिया । कंट्रोल ब्लास्ट तकनीक के जरिए पुल को गिराया दिया गया है। परीक्षण पर पुल के सर्फेस को यातायात के योग्य नहीं पाया गया था।

रायपुर -बिलासपुर फोरलेन सड़क के निर्माण को अभी पांच साल भी पूरे नहीं हो पाये थे  कि यहां से 7 किमी दूर धनेली के पास छोकरा नाला के उपर बना पूल कमजोर होने लगा। उसके निर्माण को देखकर कोई नहीं कह सकता था कि इसका निर्माण हाल ही में हुआ होगा। इस पूल की निमार्ता कंपनी ने इसकी कई बार मरम्मत की लेकिन यह ठीक नहीं हो पाया। यातायात का सही तरीके से इस पूल पर परिचालन नहीं हो सकने की रिपोर्ट के बाद इसे तीन वर्ष पूर्व बंद कर दिया गया था।

उसको ढहाने के लिए जिस तकनीक का उपयोग किया गया उसके तहत पूरे पुल में करीब 700 गड्ढे कर बारूद भरा गया। इलेक्ट्रॉनिक वायर के जरिए जोड़कर देर रात उसे रिमोट कंट्रोल से ढहा दिया गया। अब यहां ढाई करोड़ की लागत से लगभग 3 से 4 माह में नया पुल बन जाएगा पूल में शुरू से कंपन था, इसलिए तीन बार इसके जॉइंट गर्डर (स्ट्रिपसिल जॉइंट) की मरम्मत हो चुकी थी।  पीडब्ल्यूडी अफसरों ने माना कि ब्रिज का स्ट्रिपसिल जॉइंट खराब हो गया है, इसलिए गाडि?ां पुल पर उछलने लगी हैं और हादसे की आशंका बढ़ गई है।

Source : Agency